11 दिन पहले मंगेतर ने लगाई थी फांसी, अब प्रेमी ने थानेदार को किया कॉल-सॉरी सर..और फिर…

1-97

बेमेतरा, छत्तीसगढ़: यह कपल एक-दूसरे से बहुत प्यार करता था। लोगों ने उन्हें मिलते हुए पकड़ा। लाजिमी है काफी हंगामा हुआ होगा। हालांकि बाद में परिजनों की रजामंदी से दोनों की सगाई कर दी गई। 15 अप्रैल को शादी होनी थी। लेकिन लॉकडाउन के कारण टालनी पड़ी। अचानक ऐसा कुछ हुआ कि 11 दिनों के अंतराल में दोनों ने फांसी लगा ली। उन्होंने ऐसा कदम क्यों उठाया, पुलिस के लिए पहेली बन गया है। 11 दिन पहले प्रेमिका ने फांसी लगाई और अब प्रेमी ने जान दे दी। बता दें कि प्रेमिका की सुसाइड के मामले में पुलिस ने प्रेमी से पूछताछ की थी। मरने से पहले प्रेमी ने थानेदार को कॉल करके सॉरी बोला था।

11 Days Ago The Fiance Had Hanged Now The Lover Made A Call To The Policeman Sir And Then :

दिसंबर में हुई थी सगाई…
मामला नवागढ़ थाना क्षेत्र के गांव अंधियारखोर का है। मरने से पहले प्रेमी सूरज साहू ने चंदनु चौकी प्रभारी को कॉल करके कहा था-‘सॉरी सर, मैं मरने जा रहा हूं।’ थाना प्रभारी ने उसे समझाने की कोशिश की। लेकिन इससे पहले कि वे उसे जाकर रोक पाते..उसने फांसी लगा ली। सूरज खम्हरिया गांव की सोनम साहू से प्यार करता था।

मंगेतर की मौत के बाद से टूट गया था प्रेमी…
चौकी प्रभारी सुखनंदन ने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि सोनम ने 11 दिन पहले फांसी लगा ली थी। इस मामले में सूरज से पूछताछ की गई थी। बताते हैं कि मंगेतर की मौत के बाद से प्रेमी टूट गया था। चौकी प्रभारी ने बताया कि जब सूरज ने उसे कॉल किया, तो उन्होंने बातों में उलझाकर मदद पहुंचाने की कोशिश की। उन्होंने गांव के एक व्यक्ति को सूरज के पास दौड़ाया, लेकिन जब तक वो पहुंचता..सूरज फांसी लगा चुका था। कपल के बीच 2018 से प्रेम सबंध चल रहा था।

बहन से मिलने आती थी प्रेमिका..
सोनम की बड़ी बहन की ससुराल सूरज के गांव में है। वो बड़ी बहन के घर आती थी, इसी दौरान दोनों के बीच प्रेम संबंध बनें। दोनों मोबाइल पर संपर्क में रहते थे। सूरज के परिजन इस समय लॉकडाउन के चलते पुणे में फंसे हुए हैं। सोनम ने 4 मई को अपने बगीचे में आम के पेड़ पर फांसी लगाकर सुसाइड कर ली थी। पुलिस को सोनम के पास से एक सुसाइड नोट मिला था। इसमें गांव के दो युवकों पर परेशान करने का आरोप लगाया गया था।

बेमेतरा, छत्तीसगढ़: यह कपल एक-दूसरे से बहुत प्यार करता था। लोगों ने उन्हें मिलते हुए पकड़ा। लाजिमी है काफी हंगामा हुआ होगा। हालांकि बाद में परिजनों की रजामंदी से दोनों की सगाई कर दी गई। 15 अप्रैल को शादी होनी थी। लेकिन लॉकडाउन के कारण टालनी पड़ी। अचानक ऐसा कुछ हुआ कि 11 दिनों के अंतराल में दोनों ने फांसी लगा ली। उन्होंने ऐसा कदम क्यों उठाया, पुलिस के लिए पहेली बन गया है। 11 दिन पहले प्रेमिका ने फांसी लगाई और अब प्रेमी ने जान दे दी। बता दें कि प्रेमिका की सुसाइड के मामले में पुलिस ने प्रेमी से पूछताछ की थी। मरने से पहले प्रेमी ने थानेदार को कॉल करके सॉरी बोला था। दिसंबर में हुई थी सगाई… मामला नवागढ़ थाना क्षेत्र के गांव अंधियारखोर का है। मरने से पहले प्रेमी सूरज साहू ने चंदनु चौकी प्रभारी को कॉल करके कहा था-‘सॉरी सर, मैं मरने जा रहा हूं।’ थाना प्रभारी ने उसे समझाने की कोशिश की। लेकिन इससे पहले कि वे उसे जाकर रोक पाते..उसने फांसी लगा ली। सूरज खम्हरिया गांव की सोनम साहू से प्यार करता था। मंगेतर की मौत के बाद से टूट गया था प्रेमी… चौकी प्रभारी सुखनंदन ने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि सोनम ने 11 दिन पहले फांसी लगा ली थी। इस मामले में सूरज से पूछताछ की गई थी। बताते हैं कि मंगेतर की मौत के बाद से प्रेमी टूट गया था। चौकी प्रभारी ने बताया कि जब सूरज ने उसे कॉल किया, तो उन्होंने बातों में उलझाकर मदद पहुंचाने की कोशिश की। उन्होंने गांव के एक व्यक्ति को सूरज के पास दौड़ाया, लेकिन जब तक वो पहुंचता..सूरज फांसी लगा चुका था। कपल के बीच 2018 से प्रेम सबंध चल रहा था। बहन से मिलने आती थी प्रेमिका.. सोनम की बड़ी बहन की ससुराल सूरज के गांव में है। वो बड़ी बहन के घर आती थी, इसी दौरान दोनों के बीच प्रेम संबंध बनें। दोनों मोबाइल पर संपर्क में रहते थे। सूरज के परिजन इस समय लॉकडाउन के चलते पुणे में फंसे हुए हैं। सोनम ने 4 मई को अपने बगीचे में आम के पेड़ पर फांसी लगाकर सुसाइड कर ली थी। पुलिस को सोनम के पास से एक सुसाइड नोट मिला था। इसमें गांव के दो युवकों पर परेशान करने का आरोप लगाया गया था।