लखनऊ में होली के दौरान सड़क हादसों में 11 की गयी जान

c

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में होली के मौके पर तेज रफ्तार वाहन की चपेट में आने से दो सगे भाइयों सहित 11 लोगों की मौत हो गयी। सरोजनीनगर इलाके में दो भाइयों की मौत हुई तो इसी इलाके में तेज रफ्तार कार ने दो युवकों को रौंद दिया। वहीं विभूतिखण्ड इलाके में दो युवक फ्लाइओवर से नीचे गिरे और उनकी मौत हो गयी। मानकनगर में बस ने एक व्यक्ति को कूचल दिया तो तालकटोरा में बाइक सवार युवक की डिवाइडर से टकरा कर मौत हो गयी। काकोरी इलाके में वैन ने बाइक सवार एक युवक को रौंदा, हादसे में उसकी मौत हो गयी। वहीं अलीगंज और कृष्णानगर इलाके में भी सड़क हादसे में दो की मौत हो गयी।

11 People Death During Accident In Lucknow :


वजीरगंज के ताजीखाना इलाके में 27 वर्षीय आकाश कुमार प्रजापति अपने परिवार संग रहता था। आकाश अमीनाबाद में एक किताब की दुकान पर काम करता था। बताया जाता है कि बुधवार की रात आकाश अपने छोटे भाई 25 वर्षीय विनोद और साथी धर्मवीर के साथ मौजम्मनगर अपनी नानी के घर होलिका दहन कार्यक्रम में शामिल होने की बात कहकर निकला था। इसके बाद वह लोग बाइक से शहीद पथ पहुंच गये। शहीद पथ पर देर रात अज्ञात तेज रफ्तार वाहन ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में आकाश और उसके छोटे भाई विनोद की मौत हो गयी,जबकि धर्मवीर बुरी तरह घायल हो गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची सरोजनीनगर पुलिस ने सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने आकाश और विनोद को मृत घोषित कर दिया। दोनों भाइयों की सड़क हादसे में मौत की खबर जब घर पहुंची तो घर में कोहरामच गया। आकाश और विनोद के परिवार में पिता महेश, मां सुमन और एक बहन नेहा है।

इसके अलावा सरोजनीनगर इलाके में गुरुवार की दोपहर आलमबाग सरदारीखेड़ा निवासी 35 वर्षीय राजाबाबू अपनी मीट की दुकान पर खड़ा था। इस बीच पड़ोस की दुकान में काम करने वाला अवध विहार कालोनी निवासी 20 वर्षीय शब्बीर खान भी वहां पहुंच गया। दोनों साथ में खड़े होकर बातचीत करने लगे। इस बीच एक तेज रफ्तार स्विफ्ट डिजाइर कार अनियंत्रित होकर राजा बाबू की दुकान में घुस गयी। इस हादसे में राजा बाबू, शब्बीर खान सहित कुछ लोग घायल हो गये। सूचना मिलते ही मौके पर सरोजनीनगर पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने राजा बाबू और शब्बीर खान को मृत घोषित कर दिया। छानबीन के बाद पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं गोण्डा जनपद निवासी 28 वर्षीय सत्येन्द्र कुमार पाण्डेय विभूतिखण्ड के गुलाम हसनपुरवा इलाके में किराये के मकान में रहता था। वह कैश सिक्योरिटी कम्पनी में काम करता था। बताया जाता है कि गुरुवार की रात सत्येन्द्र अपने साथी इन्दिरानगर निवासी 22 वर्षीय प्रमोद दुबे के साथ बाइक से लोहिया अस्पताल से हाईकोर्ट की तरफ फ्लाइओवर से जा रहा था। बाइक की रफ्तार तेज होने की वजह से सत्येन्द्र की बाइक डिवाइडर से टकरा गयी। वहीं बाइक सवार सत्येन्द और उसका साथी प्रमोद फ्लाईओवर से नीचे जा गिरे। हादसे इतना भयानक था कि सत्येन्द्र और प्रमोद की मौके पर ही मौत हो गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस दोनों को राम मनोहर लोहिया अस्पताल लेकर पहुंची, जहां डाक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने इसके बाद हादसे की खबर दोनों के परिवार वालों को दी। छानबीन के बाद पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सत्येन्द्र कुमार की 11 माह पहले ही हिमांशी नाम की युवती से शादी हुई थी।

वहीं मानकनगर अवध विहार के पास बुधवार की देर रात तेज रफ्तार बस ने 47 वर्षीय रामगोपाल श्रीवास्तव को टक्कर मार दी। हादसे में राम गोपाल की मौत हो गयी। इसके अलावा तालकटोरा दरियापुर निवासी 20 वर्षीय विक्रम रावत गुरुवार को बाइक से होली मिलने की बात कहकर घर से निकला था। रास्ते में मीना बेकरी के पास अचानक उसकी बाइक अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गयी। हादसे में विक्रम बुरी तरह घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसको रानी लक्ष्मी बाई अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गयी। पुलिस ने विक्रम की मौत की खबर परिवार वालों को दी और छानबीन के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं काकोरी के टिकरिया गांव निवासी धर्मवीर यादव 28 वर्ष पुत्र स्वर्गीय राम कुमार गुरुवार सुबह होली का सामना लेने के लिए अपने दोस्त मुकेश यादव की बाइक से काकोरी कस्बे आए हुए थे। धर्मवीर व मुकेश दोनों दोस्त बाइक से घर वापस आ रहे थे। रास्ते में गोहरामऊ गांव के निकट सामने से आ रही तेज रफ्तार मारुति वैन उनकी बाइक मेें टक्कर मार दी। बाइक सवार दोनों उछल कर सड़क पर जा गिरे जिसमें धर्मवीर गंभीर रूप से घायल हो गया। राहगीरों ने घायल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान धर्मवीर की मौत हो गयी। हादसें में घायल मुकेश यादव का इलाज चल रहा है। धर्मवीर की मौत की खऱ मिलते पत्नी रितिका यादव गश खाकर गिर गयी।

इसके अलावा अलीगंज के कपूरथला चौराहे पर बुधवार रात सीतापुर निवासी 30 वर्षीय लवी वर्मा की बाइक अनियंत्रित होकर बाइक से टकरा गयी। इस हादसे में लवी को गंभीर रूप चोटें लगी। घायलवस्था में उसे पुलिस की मदद से अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। पुलिस का कहना है कि लवी पुरनिया के पास एक कपड़े की दुकान मे काम करता था। हादसे की सूचना उसके परिवारीजनों को दे दी गई है।

वहीं कृष्णानगर इलाके में आलमबाग के रहने वाले 31 वर्षीय अजय कुमार वर्मा की सड़क हादसे में मौत हो गर्यी। परिवार वालों ने बताया कि वह होली मिलने जा रहे थे। तभी पूरन नगर के पास उनकी बाइक अचानक नियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गयी,जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गये। इलाज के लिए लोकबन्धु अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में होली के मौके पर तेज रफ्तार वाहन की चपेट में आने से दो सगे भाइयों सहित 11 लोगों की मौत हो गयी। सरोजनीनगर इलाके में दो भाइयों की मौत हुई तो इसी इलाके में तेज रफ्तार कार ने दो युवकों को रौंद दिया। वहीं विभूतिखण्ड इलाके में दो युवक फ्लाइओवर से नीचे गिरे और उनकी मौत हो गयी। मानकनगर में बस ने एक व्यक्ति को कूचल दिया तो तालकटोरा में बाइक सवार युवक की डिवाइडर से टकरा कर मौत हो गयी। काकोरी इलाके में वैन ने बाइक सवार एक युवक को रौंदा, हादसे में उसकी मौत हो गयी। वहीं अलीगंज और कृष्णानगर इलाके में भी सड़क हादसे में दो की मौत हो गयी।


वजीरगंज के ताजीखाना इलाके में 27 वर्षीय आकाश कुमार प्रजापति अपने परिवार संग रहता था। आकाश अमीनाबाद में एक किताब की दुकान पर काम करता था। बताया जाता है कि बुधवार की रात आकाश अपने छोटे भाई 25 वर्षीय विनोद और साथी धर्मवीर के साथ मौजम्मनगर अपनी नानी के घर होलिका दहन कार्यक्रम में शामिल होने की बात कहकर निकला था। इसके बाद वह लोग बाइक से शहीद पथ पहुंच गये। शहीद पथ पर देर रात अज्ञात तेज रफ्तार वाहन ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में आकाश और उसके छोटे भाई विनोद की मौत हो गयी,जबकि धर्मवीर बुरी तरह घायल हो गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची सरोजनीनगर पुलिस ने सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने आकाश और विनोद को मृत घोषित कर दिया। दोनों भाइयों की सड़क हादसे में मौत की खबर जब घर पहुंची तो घर में कोहरामच गया। आकाश और विनोद के परिवार में पिता महेश, मां सुमन और एक बहन नेहा है।

इसके अलावा सरोजनीनगर इलाके में गुरुवार की दोपहर आलमबाग सरदारीखेड़ा निवासी 35 वर्षीय राजाबाबू अपनी मीट की दुकान पर खड़ा था। इस बीच पड़ोस की दुकान में काम करने वाला अवध विहार कालोनी निवासी 20 वर्षीय शब्बीर खान भी वहां पहुंच गया। दोनों साथ में खड़े होकर बातचीत करने लगे। इस बीच एक तेज रफ्तार स्विफ्ट डिजाइर कार अनियंत्रित होकर राजा बाबू की दुकान में घुस गयी। इस हादसे में राजा बाबू, शब्बीर खान सहित कुछ लोग घायल हो गये। सूचना मिलते ही मौके पर सरोजनीनगर पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने सभी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने राजा बाबू और शब्बीर खान को मृत घोषित कर दिया। छानबीन के बाद पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं गोण्डा जनपद निवासी 28 वर्षीय सत्येन्द्र कुमार पाण्डेय विभूतिखण्ड के गुलाम हसनपुरवा इलाके में किराये के मकान में रहता था। वह कैश सिक्योरिटी कम्पनी में काम करता था। बताया जाता है कि गुरुवार की रात सत्येन्द्र अपने साथी इन्दिरानगर निवासी 22 वर्षीय प्रमोद दुबे के साथ बाइक से लोहिया अस्पताल से हाईकोर्ट की तरफ फ्लाइओवर से जा रहा था। बाइक की रफ्तार तेज होने की वजह से सत्येन्द्र की बाइक डिवाइडर से टकरा गयी। वहीं बाइक सवार सत्येन्द और उसका साथी प्रमोद फ्लाईओवर से नीचे जा गिरे। हादसे इतना भयानक था कि सत्येन्द्र और प्रमोद की मौके पर ही मौत हो गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस दोनों को राम मनोहर लोहिया अस्पताल लेकर पहुंची, जहां डाक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने इसके बाद हादसे की खबर दोनों के परिवार वालों को दी। छानबीन के बाद पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सत्येन्द्र कुमार की 11 माह पहले ही हिमांशी नाम की युवती से शादी हुई थी।

वहीं मानकनगर अवध विहार के पास बुधवार की देर रात तेज रफ्तार बस ने 47 वर्षीय रामगोपाल श्रीवास्तव को टक्कर मार दी। हादसे में राम गोपाल की मौत हो गयी। इसके अलावा तालकटोरा दरियापुर निवासी 20 वर्षीय विक्रम रावत गुरुवार को बाइक से होली मिलने की बात कहकर घर से निकला था। रास्ते में मीना बेकरी के पास अचानक उसकी बाइक अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गयी। हादसे में विक्रम बुरी तरह घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसको रानी लक्ष्मी बाई अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गयी। पुलिस ने विक्रम की मौत की खबर परिवार वालों को दी और छानबीन के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं काकोरी के टिकरिया गांव निवासी धर्मवीर यादव 28 वर्ष पुत्र स्वर्गीय राम कुमार गुरुवार सुबह होली का सामना लेने के लिए अपने दोस्त मुकेश यादव की बाइक से काकोरी कस्बे आए हुए थे। धर्मवीर व मुकेश दोनों दोस्त बाइक से घर वापस आ रहे थे। रास्ते में गोहरामऊ गांव के निकट सामने से आ रही तेज रफ्तार मारुति वैन उनकी बाइक मेें टक्कर मार दी। बाइक सवार दोनों उछल कर सड़क पर जा गिरे जिसमें धर्मवीर गंभीर रूप से घायल हो गया। राहगीरों ने घायल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान धर्मवीर की मौत हो गयी। हादसें में घायल मुकेश यादव का इलाज चल रहा है। धर्मवीर की मौत की खऱ मिलते पत्नी रितिका यादव गश खाकर गिर गयी।

इसके अलावा अलीगंज के कपूरथला चौराहे पर बुधवार रात सीतापुर निवासी 30 वर्षीय लवी वर्मा की बाइक अनियंत्रित होकर बाइक से टकरा गयी। इस हादसे में लवी को गंभीर रूप चोटें लगी। घायलवस्था में उसे पुलिस की मदद से अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। पुलिस का कहना है कि लवी पुरनिया के पास एक कपड़े की दुकान मे काम करता था। हादसे की सूचना उसके परिवारीजनों को दे दी गई है।

वहीं कृष्णानगर इलाके में आलमबाग के रहने वाले 31 वर्षीय अजय कुमार वर्मा की सड़क हादसे में मौत हो गर्यी। परिवार वालों ने बताया कि वह होली मिलने जा रहे थे। तभी पूरन नगर के पास उनकी बाइक अचानक नियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गयी,जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गये। इलाज के लिए लोकबन्धु अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।