नेपाल में भूस्खलन से 12 की मौत, 2 शख्स लापता

nepal55_1563906870_650x366

महराजगंज:नेपाल में बाढ़ का प्रकोप जारी है. इस बीच भूस्खलन की वजह से नेपाल के गुलमी जिले के पश्चिमोत्तर इलाके में 12 लोगों की मौत हो गई, वहीं दो लोग इस हादसे में लापता बताए जा रहे हैं. पुलिस प्रशासन की ओर से बचाव का काम जारी है. लापता लोगों का कोई पता नहीं चल पाया है।

12 Killed Two Missing In Nepal Landslide :

नेपाल में हुई भारी बारिश ने बड़े पैमाने पर तबाही मचाई है. इस दौरान करीब 90 लोगों ने अपनी जान गंवा दी. अधिकारियों के अनुमान के अनुसार देश के पुनर्निमाण के लिए और इसे फिर से बसाने के लिए करीब 22 करोड़ रुपये की जरूरत है. ‘द काठमांडू पोस्ट’ की सोमवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, बाढ़ और भूस्खलन से जुलाई के दूसरे सप्ताह में देश के पूर्वी हिस्सों में बड़े पैमाने पर तबाही हुई है ।

सड़क विभाग के शुरुआती अनुमानों के अनुसार, इन्फ्रास्ट्रक्चर को ठीक करने और पुनर्वास की लागत लगभग 22 करोड़ रुपये होगी ।

लगातार हुई बारिश से आई आपदा में 50 से ज्यादा सड़कें और पुल ध्वस्त हो गए हैं. बारिश का दौर जारी है, ऐसे में आने वाले दिनों में और कई नुकसान होने की आशंका है. देश में हर साल मॉनसून के दौरान बाढ़ से सड़कें और पुल ध्वस्त हो जाते हैं ।

महराजगंज:नेपाल में बाढ़ का प्रकोप जारी है. इस बीच भूस्खलन की वजह से नेपाल के गुलमी जिले के पश्चिमोत्तर इलाके में 12 लोगों की मौत हो गई, वहीं दो लोग इस हादसे में लापता बताए जा रहे हैं. पुलिस प्रशासन की ओर से बचाव का काम जारी है. लापता लोगों का कोई पता नहीं चल पाया है। नेपाल में हुई भारी बारिश ने बड़े पैमाने पर तबाही मचाई है. इस दौरान करीब 90 लोगों ने अपनी जान गंवा दी. अधिकारियों के अनुमान के अनुसार देश के पुनर्निमाण के लिए और इसे फिर से बसाने के लिए करीब 22 करोड़ रुपये की जरूरत है. 'द काठमांडू पोस्ट' की सोमवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, बाढ़ और भूस्खलन से जुलाई के दूसरे सप्ताह में देश के पूर्वी हिस्सों में बड़े पैमाने पर तबाही हुई है । सड़क विभाग के शुरुआती अनुमानों के अनुसार, इन्फ्रास्ट्रक्चर को ठीक करने और पुनर्वास की लागत लगभग 22 करोड़ रुपये होगी । लगातार हुई बारिश से आई आपदा में 50 से ज्यादा सड़कें और पुल ध्वस्त हो गए हैं. बारिश का दौर जारी है, ऐसे में आने वाले दिनों में और कई नुकसान होने की आशंका है. देश में हर साल मॉनसून के दौरान बाढ़ से सड़कें और पुल ध्वस्त हो जाते हैं ।