1. हिन्दी समाचार
  2. हाइवे पर 12 किलोमीटर लंबे जाम से मुश्किल हुआ सोनौली बार्डर तक का सफर

हाइवे पर 12 किलोमीटर लंबे जाम से मुश्किल हुआ सोनौली बार्डर तक का सफर

12 Km Long Jam On The Highway Makes The Journey Of Sonouli Border Difficult

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

सोनौली:दशहरा पर्व के चलते नेपाल में डिमांड पूरा करने के लिए देश भर से पहुंचे मालवाहक ट्रकों के कारण सोनौली से लेकर सम्पतिहा तक हाइवे मार्ग जाम की गिरफ्त में है। हाइवे के एक लेन पर ट्रकों ने पूरी तरह से कब्जा जमा लिया है। दूसरे लेन से ही सवारी व निजी वाहन आ-जा रहे हैं। इससे सोनौली का सफर मुश्किल हो गया है।

पढ़ें :- नौतनवां:एक साथ उठी पति-पत्नी की अर्थिया,रो उठा पूरा नगर

सोनौली मार्ग से कस्टम से जांच-पड़ताल के बाद हर दिन पांच सौ ट्रक सामान लेकर नेपाल में जाते हैं, जबकि आठ सौ से एक हजार ट्रक देश के विभिन्न कोने से सोनौली आ रहे हैं। दशहरा पर्व के चलते नेपाल में सामानों की डिमांड अधिक है। इस वजह से सामान्य दिनों की तुलना में इन दिनों मालवाहक ट्रकों की आवाजाही बढ़ गई है। इसका असर यह है कि सोनौली से जाम बढ़ता हुआ 12 किलोमीटर दूर सम्पतिहा तक पहुंच गया है। जाम से सोनौली बार्डर पर बदरंग हुई अतुल्य भारत की तस्वीर

सोनौली सीमा से हर दिनों दर्जनों टूरिस्ट वाहन विदेशी पर्यटकों को लेकर नेपाल जाते हैं। सोनौली हाइवे के बीच में डिवाइडर लगाकर भले ही एक तरफ से आगमन व दूसरे लेन से प्रस्थान की सुविधा बनाई गई है। लेकिन मालवाहक ट्रकों के भारी आमद से हाइवे का एक लेन ट्रकों का स्टैंड बन गया है। दूसरे लेन की सड़क से ही सभी गाड़ियां आ-जा रही हैं। इससे टूरिस्ट बस जाम में फंस जा रही है। मिनटों की दूरी तय करने में घंटों समय का इंतजार करना पड़ रहा है।

रवि पारिख-मैनेजर, भैरहवा ड्राई बंदरगाह ने बताया कि बेलहिया कस्टम में सोनौली सीमा से रोजाना 500 से 550 मालवाहक ट्रक आ रहे हैं। पहले 400 से 450 मालवाहक ट्रक ही आ पाते थे। त्योहार के सीजन के चलते इन दिनों गाड़ी अधिक आ रही है। क्षमता के मुताबिक पूरी कोशिश है कि अधिक से अधिक ट्रक को नेपाल में एंट्री मिल सके।

विजय राज सिंह, प्रभारी निरीक्षक, सोनौली कोतवाली ने बताया कि सोनौली बार्डर पर आवागमन को बनाए रखने के लिए दूसरे लेन पर मालवाहक ट्रकों की एंट्री पर सख्ती से रोक लगा दी गई है। दलालों पर शिकंजा कसा गया है। पहले की अपेक्षा सीमा पर वाहनों का संचालन काफी बेहतर है।

पढ़ें :- किसान आंदोलनः 10वें दौर की बातचीत बेनतीजा, 22 जनवरी को होगी अगली बैठक

रतन गुप्ता, अध्यक्ष, ट्रांसपोर्ट यूनियन सोनौली ने कहा कि त्योहारी सीजन में जाम की समस्या तभी खत्म होगी जब कस्टम कार्यालय रात 12 बजे तक खुले। इसके लिए दोनों देश के कस्टम विभाग से मांग की कई है। इसके पहले भी जाम की समस्या दूर करने के लिए सोनौली व भैरहवा कस्टम 12 बजे रात तक खोले जा चुके हैं। विषम परिस्थिति में यह सुविधा फिर से शुरू होनी चाहिए ।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...