दारोगा की गिरफ्तार करने गई CBI टीम को ग्रामीणों ने पीटा

cbi
दारोगा की गिरफ्तारी करने गई CBI टीम को ग्रामीणों ने पीटा

नई दिल्ली। यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (Yamuna Expressway Industrial Development Authority) क्षेत्र में हुए 126 करोड़ रुपये के जमीन खरीद घोटाले की जांच के लिए पहुंचे ग्रेटर नोएडा के सुनपुरा गांव में केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) अधिकारियों को ग्रामीणों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है।

126 Crore Land Scam Cbi Team Beaten By Villagers In Ups Greater Noida :

सीबीआई की टीम शनिवार की सुबह अपने एक दारोगा की गिरफ्तारी के लिए गांव में उसके घर दबिश देने पहुंची थी। लेकिन दरोगा घर पर नहीं था। इस बीच सीबीआई की टीम का दरोगा के परिवार के साथ नोंक-झोंक हो गई। दरोगा के परिवार ने सीबीआई की टीम को घेर लिया और मारपीट शुरू कर दी।

मायावती सरकार में हुए भर्ती घोटाले में सीबीआई की कार्रवाई

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले बीएसपी प्रमुख मायावती (BSP Chie Mayawati) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल, सीबीआई ने मायावती (Mayawati) के मुख्यमंत्री रहते 2010 में उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग में भर्ती के लिए कथित भाई-भतीजावाद एवं अन्य अनियमितताओं की जांच की खातिर अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ प्रारंभिक रिपोर्ट दर्ज कर ली है और मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

अधिकारियों ने बताया कि राज्य की भाजपा शासित सरकार की शिकायत पर प्रारंभिक रिपोर्ट दर्ज की गई है जिसने इसे जनवरी में केंद्र सरकार के माध्यम से सीबीआई के पास भेजी थी। आरोप है कि यूपीपीएससी के अधिकारियों सहित कुछ अज्ञात लोगों ने 2010 में अतिरिक्त निजी सचिवों के करीब 250 पदों के लिए परीक्षा में अनियमितताएं कीं। आरोप है कि उन्होंने अयोग्य उम्मीदवारों को लाभ पहुंचाया।

नई दिल्ली। यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (Yamuna Expressway Industrial Development Authority) क्षेत्र में हुए 126 करोड़ रुपये के जमीन खरीद घोटाले की जांच के लिए पहुंचे ग्रेटर नोएडा के सुनपुरा गांव में केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) अधिकारियों को ग्रामीणों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा है। सीबीआई की टीम शनिवार की सुबह अपने एक दारोगा की गिरफ्तारी के लिए गांव में उसके घर दबिश देने पहुंची थी। लेकिन दरोगा घर पर नहीं था। इस बीच सीबीआई की टीम का दरोगा के परिवार के साथ नोंक-झोंक हो गई। दरोगा के परिवार ने सीबीआई की टीम को घेर लिया और मारपीट शुरू कर दी। मायावती सरकार में हुए भर्ती घोटाले में सीबीआई की कार्रवाई लोकसभा चुनाव से ठीक पहले बीएसपी प्रमुख मायावती (BSP Chie Mayawati) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल, सीबीआई ने मायावती (Mayawati) के मुख्यमंत्री रहते 2010 में उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग में भर्ती के लिए कथित भाई-भतीजावाद एवं अन्य अनियमितताओं की जांच की खातिर अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ प्रारंभिक रिपोर्ट दर्ज कर ली है और मामले की छानबीन शुरू कर दी है। अधिकारियों ने बताया कि राज्य की भाजपा शासित सरकार की शिकायत पर प्रारंभिक रिपोर्ट दर्ज की गई है जिसने इसे जनवरी में केंद्र सरकार के माध्यम से सीबीआई के पास भेजी थी। आरोप है कि यूपीपीएससी के अधिकारियों सहित कुछ अज्ञात लोगों ने 2010 में अतिरिक्त निजी सचिवों के करीब 250 पदों के लिए परीक्षा में अनियमितताएं कीं। आरोप है कि उन्होंने अयोग्य उम्मीदवारों को लाभ पहुंचाया।