14 साल के बच्चे ने खेली अद्भुत पारी, 98 चौके लगाकर बनाए नाबाद 556 रन

14 साल के बच्चे ने खेली अद्भुत पारी, 98 चौके लगाकर बनाए 556 रन
14 साल के बच्चे ने खेली अद्भुत पारी, 98 चौके लगाकर बनाए 556 रन

14 Year Old Indian Kid Hits Unbeaten 556 Runs

नई दिल्ली। भारतीय टेस्ट टीम में जगह बना चुके पृथ्वी शॉ 14 साल की उम्र में 546 रनों की पारी खेल कर सुर्खियों में आए थे। और अब इतने ही साल के एक और लड़के ने चौंकाया है। डीके गायकवाड़ अंडर-14 क्रिकेट टूर्नामेंट में बड़ौदा के प्रियांशु मोलिया ने 556 रनों की तूफानी पारी खेली है। भारत को क्रिकेट का एक नया वंडरकिड मिला है। इस वंडरकिड की बात करें तो यह 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के हीरो मोहिंदर अमरनाथ की शागिर्दगी में खेल के गुर सीख रहा है।

खबरों के मुताबिक डीके गायकवाड़ अंडर-14 क्रिकेट चैंपियनशिप में मोहिंदर लाला अमरनाथ क्रिकेट अकादमी की तरफ से बल्लेबाजी करते हुए प्रियांशु ने 556 रनों की विशाल पारी खेल डाली। उनके सामने थी योगी क्रिकेट अकादमी की टीम, जिसके तकरीबन हर गेंदबाज को प्रियांशु ने जमकर छकाया। प्रियांशु सिर्फ एक बल्लेबाज नहीं बल्कि एक बेहतरीन ऑलराउंडर भी हैं और उन्होंने इस मैच में बल्ले से ही नहीं बल्कि गेंद से भी धमाल मचाया और विरोधी टीम के चार बल्लेबाजों को पवेलियन का रास्ता दिखाया।

सोमवार को योगी अकैडमी सिर्फ 52 रनों पर ऑलआउट हो गई। इसके बाद प्रियांशु की बल्लेबाजी की बारी आई। पहले दिन का खेल खत्म होने तक प्रियांशु 408 रनों पर नॉट आउट रहे। मंगलवार को खेल के आखिरी दिन उन्होंने अपने स्कोर में 148 रन और जोड़े। प्रियांशु ने 319 गेंदों में 556 रनों की जबरदस्त पारी खेली जिसमें 98 चौके और एक छक्का शामिल रहा।

मोहिंदर लाला अमरनाथ क्रिकेट अकैडमी ने अपनी पहली पारी 826/4 पर घोषित की। इसके बाद टीम ने योगी अकैडमी की दूसरी पारी को 84 रनों पर समेटकर पारी और 689 रनों के विशाल अंतर से मैच जीत लिया। प्रियांशु का इस टूर्नमेंट में पिछला हाइएस्ट स्कोर 254 रन था, जिसे उन्होंने पिछले साल में ही बनाया था।

नई दिल्ली। भारतीय टेस्ट टीम में जगह बना चुके पृथ्वी शॉ 14 साल की उम्र में 546 रनों की पारी खेल कर सुर्खियों में आए थे। और अब इतने ही साल के एक और लड़के ने चौंकाया है। डीके गायकवाड़ अंडर-14 क्रिकेट टूर्नामेंट में बड़ौदा के प्रियांशु मोलिया ने 556 रनों की तूफानी पारी खेली है। भारत को क्रिकेट का एक नया वंडरकिड मिला है। इस वंडरकिड की बात करें तो यह 1983 वर्ल्ड कप विजेता टीम के हीरो मोहिंदर…