चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों की संख्या हुई 144, लोगों ने सीएम नीतीश कुमार का किया विरोध

a

पटना। बिहार में मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार एईएस की वजह से 144 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है। वहीं चमकी बुखार के प्रकोप को लेकर कहा जा रहा है कि यह मुख्य रूप से लोगों में जागरुकता नहीं होने की वजह से तेजी से फैला है।

144 Kids Died Due To Encephalitis In Bihar :

सिर्फ मुजफ्फरपुर में अब तक चमकी बुखार से 117 बच्चों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा वैशाली में 12, समस्तीपुर में 5, गया में 6, मोतिहारी और पटना में दो-दो बच्चों की मौत हुई है। चमकी बुखार का कहर ऐसा है कि चार दिनों में अस्पताल में फिर ठीक हो चुके बच्चे की अचानक मौत हो गई है।

वहीं आपको बता दें कि हालात का जायजा लेने के लिए खुद सीएम नीतीश कुमार मंगलवार को मुजफ्फरपुर स्थित एसकेएमसीएच अस्पताल पहुंचे लेकिन एसकेएमसीएच अस्पताल में लोगों ने नीतीश कुमार का जमकर विरोध किया। वहां मौजूद लोगों ने सीएम वापस जाओ का नारा लगाया।

आपको बता दें कि लंबे से नीतीश कुमार के मुजफ्फरपुर नहीं पहुंचने के कारण सियासत हो रही है। वहां के लोगों में भी इस बात को लेकर आक्रोश था और आज जब नीतीश कुमार अस्पताल पहुंचे तो उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा। आपको बता दें कि मुजफ्फरपुर में इन दिनों चमकी बुखार से पीडि़त बच्चों से पूरा अस्पताल भरा पड़ा है।

पटना। बिहार में मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार एईएस की वजह से 144 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है। वहीं चमकी बुखार के प्रकोप को लेकर कहा जा रहा है कि यह मुख्य रूप से लोगों में जागरुकता नहीं होने की वजह से तेजी से फैला है। सिर्फ मुजफ्फरपुर में अब तक चमकी बुखार से 117 बच्चों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा वैशाली में 12, समस्तीपुर में 5, गया में 6, मोतिहारी और पटना में दो-दो बच्चों की मौत हुई है। चमकी बुखार का कहर ऐसा है कि चार दिनों में अस्पताल में फिर ठीक हो चुके बच्चे की अचानक मौत हो गई है। वहीं आपको बता दें कि हालात का जायजा लेने के लिए खुद सीएम नीतीश कुमार मंगलवार को मुजफ्फरपुर स्थित एसकेएमसीएच अस्पताल पहुंचे लेकिन एसकेएमसीएच अस्पताल में लोगों ने नीतीश कुमार का जमकर विरोध किया। वहां मौजूद लोगों ने सीएम वापस जाओ का नारा लगाया। आपको बता दें कि लंबे से नीतीश कुमार के मुजफ्फरपुर नहीं पहुंचने के कारण सियासत हो रही है। वहां के लोगों में भी इस बात को लेकर आक्रोश था और आज जब नीतीश कुमार अस्पताल पहुंचे तो उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा। आपको बता दें कि मुजफ्फरपुर में इन दिनों चमकी बुखार से पीडि़त बच्चों से पूरा अस्पताल भरा पड़ा है।