1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. यूपी में अब तक 1651 कोरोना के एक्टिव केस, 513 हो चुके ठीक, 39 मरीजों की मौत

यूपी में अब तक 1651 कोरोना के एक्टिव केस, 513 हो चुके ठीक, 39 मरीजों की मौत

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भी लगातार कोरोना संक्रमितों के बढ़ने का सिलसिला जारी है। गुरूवार को उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि यूपी में आज तक 1651 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। जबकि अब तक 39 मरीज़ों की मौत हो चुकी है। 513 मरीज़ ठीक होकर घर गए हैं। उन्होंने बताया कि कल 500 से ज्यादा पूल टेस्टिंग हुई। 520 में 14 पूल टेस्टिंग पॉजिटिव आए हैं। सैंपल की टेस्टिंग की क्षमता 5000 तक पहुंच रही है। इसे और बढ़ाने का निर्देश दिया गया है। 60 जिलों में कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं लेकिन 6 जिलों में एक्टिव इंफेक्शन अब नहीं हैं।

अवनीश अवस्थी ने कहा कि अन्य प्रदेशों की तुलना में यूपी में कोरोना का ग्रोथ रेट कम है। यूपी में कोरोना से डेथ रेट भी अन्य प्रदेशों की तुलना में कम है। उन्होंने बताया कि सीएम ने पोर्टेबल वेंटीलेटर खरीदने को कहा है। किसानो को लेकर उन्होने कहा कि फसलों की कटाई का काम तकरीबन पूरा हो गया है। उन्होंने कहा कि किसी भी जिले में दिख रहे प्रवासी मजदूरों को वहीं मेडिकल जांच के बाद क्वारनटाइन किया जाएगा।

अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि प्रत्येक प्रवासी श्रमिक को चरणबद्ध रूप से सुरक्षित प्रदेश में वापस लाने की व्यवस्था की जा रही है। केंद्र सरकार की भी गाइडलाइंस आ गई हैं, उस कड़ी में आज मुख्यमंत्री ने महत्वपूर्ण बैठक करते हुए कहा है कि अन्य राज्यों में जो हमारे प्रवासी श्रमिक हैं, वे पैदल यात्रा न करें। सीएम के आदेशानुसार कोटा, राजस्थान से विद्यार्थियों को, हरियाणा से प्रवासी श्रमिकों को प्रदेश में लाया गया। प्रयागराज से छात्रों को उनके घर भेजा गया।

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि सम्बंधित राज्यों से हमारे प्रवासी श्रमिकों की सूची (श्रमिकों का नाम, पता, फोन नम्बर व स्वास्थ्य परीक्षण की स्थिति) जैसे ही उपलब्ध हो जाएगी, उनको वापस लाने की योजना तत्काल आगे बढ़ा दी जाएगी। उन्होंने सभी राज्य सरकारों से वार्ता करने के आदेश दिए हैं, उसी क्रम में मुख्य सचिव व गृह विभाग के माध्यम से सभी प्रदेश सरकारों से वार्ता करके प्रवासी श्रमिकों को चरणबद्ध तरीके से वापस लाने की योजना बनाई जा रही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...