डेरे से बरामद की गयी 18 लड़कियां, मेडिकल परीक्षण के बाद हो सकता है नया खुलासा

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा सोमवार को दोषी करार देते हुए 20 साल जेल की सज़ा सुनाई जा चुकी है, जिसके बाद अब कानून का डांडा बाबा के डेरे पर भी चल रहा है। इसी कड़ी में मंगलवार को डेरे में छापेमारी के दौरान 18 लड़कियों को बरामद किया गया। खबरों की माने तो इन्हें आश्रम में शाही बेटी के नाम से बुलाया जाता था। बताया जा रहा है कि डेरे से बरामद इन सभी लड़कियों का पहले मेडिकल परीक्षण कराया जाएगा। सिरसा सिविल हॉस्पिटल के सीएमओ गोविंद गुप्‍ता ने कहा कि डेरा के आश्रम से 18 लड़कियों को रेस्‍क्‍यु कर यहां लाया गया है, अब इनका मेडिकल परीक्षण किया जा रहा है।

गुरमीत राम रहीम ने खासतौर से अपनी सेवा के लिए कई साध्वियों की ड्यूटी लगा रखा थी। बताया जा रहा है कि राम रहीम ने अपनी सेवा में 200-250 साध्वियां लगी रखी थीं। इन साध्वियों को विशेष तौर पर ट्रेंड किया जाता था और उन्हें किसी भी अन्य मर्द से बात करने की मनाही थी। इतना ही नहीं ये साध्वियां जिस जगह रहती थीं, उसके 8-10 फीट के दायरे में पुरुषों के जाने पर प्रतिबंध था। केवल राम रहीम ही उनके पास जा सकता था। हाल के दिनों में बवाल बढ़ते देख इनमे थोड़ी कमी आई थी। बरामद सभी लड़कियों के बारे में कहा जा रहा है कि ये सभी बाबा के खास सेवाओं को ध्यान में रखती थी, राम रहीम के कमरे में आने जाने का सभी को अधिकार प्राप्त नहीं था यह अधिकार इन सभी शाही बेटियों को ही प्राप्त था।

{ यह भी पढ़ें:- बलात्कारी बाबा की रहस्यमयी सुरंगों का राज, कमरे से साध्वियों के हॉस्टल का खुफिया कनेक्शन! }

मेडिकल परीक्षण क्यों
मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो प्रशासन को आशंका है कि बाबा इन लड़कियों के साथ भी यौन शोषण किया करता था हालांकि इस बात का अभी कोई पुख्ता प्रमाण नहीं है लेकिन मेडिकल परीक्षण के बाद दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। अगर आने वाले मेडिकल रिपोर्ट में रेप या किसी और बात की पुष्टी होती है तो बाबा की मुश्किलें और बढ़ सकती है।

{ यह भी पढ़ें:- खुद की करेंसी चलता था गुरमीत राम-रहीम, सर्च ऑपरेशन में ये चीजें बरामद }

Loading...