महाराष्ट्र: नाले से मिले 19 बच्चियों के भ्रूण

नई दिल्ली| प्रधानमंत्री मोदी ने बीते साल कन्या भ्रूण हत्या को रोकने और बेटियों की सुरक्षा के उद्देश्य से बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मुहिम की शुरुआत की थी, लेकिन लगता है लोगों ने प्रधानमंत्री की इस मुहिम से कोई सीख नहीं ली है| दरअसल, महाराष्ट्र के सांगली जिले के एक गांव के नाले में 19 कन्याभ्रूण मिलने का सनसनीखेज मामला सामने आया है|




पुलिस एक गर्भवती महिला की गर्भपात के दौरान हुई मृत्यु की जांच करते हुए सांगली के म्हैसाल गांव पहुंची तो वहां के एक नाले से उन्हें 19 बच्चियों के भ्रूण मिले| सांगली के एसपी दत्तात्रे शिंदे ने बताया कि 26 वर्षीय गर्भवती महिला की 28 फरवरी को हुई मृत्यु ने इस पूरे रैकेट का भांडाफोड़ किया| महिला की मृत्यु डॉ बाबासाहेब खिद्रपुरे के प्राइवेट अस्पताल में हुई| गांववालों को महिला की मृत्यु के बाद अस्पताल पर शक हुआ, जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी और फिर पुलिस कार्यवाही में इस पूरे रैकेट का सच सामने आया|




शिंदे ने बताया कि आरोपी डॉक्टर अभी फरार है| उन्होंने बताया कि मृत महिला का पति जबरदस्ती उसे अस्पताल गर्भपात करने के लिए ले गया क्योंकि वो तीसरी बार मां बन रही थी और इस बार भी उसके गर्भ में एक बच्ची थी| शिंदे ने बताया कि इस अस्पताल में कई महीनो से यह गैरकानूनी खेल चल रहा था| उन्होंने कहा कि अस्पताल के डॉक्टर बाबा साहब खिंद्रापुरे के पास होमियोपैथी की डिग्री है लेकिन उसके हॉस्पिटल में सर्जरी का पूरा सामान मौजूद है| पुलिस ने उसके खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तारी की कोशिश शुरू कर दी है|