यूपी में 2 साल की बच्ची को दरिंदों ने बनाया हवस का शिकार, बच्ची की हालत नाजुक

उरई। इंसानी सोच इतनी कैसे गिर सकती है, हवस की भूख में कोई इतना अंधा कैसे हो सकता है कि उसे एक नवजात पर भी रहम न आए, इंसानियत पर भी तरस न आए। ज़रा सोचिए उस इंसान को इंसान कहलाने का हक़ है जिसने 2 साल की मासूम बच्ची को अपने हवस का शिकार बनाते हुए मौत के मुंह में धकेल दिया हो। ऐसे दरिंदों से तो अच्छे जानवर है। ऐसी ही दरिंदगी का नया मामला यूपी के उरई से से आया है जहां शुक्रवार की रात दरिंदों ने 2 साल की मासूम बच्ची के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया है। यह सोच कर घीन्न आ रही है कि वह मासूम जिसे बोलना तक नहीं आता, दुनियादारी तक नहीं पता उसके साथ इस तरह का घिनौना काम कोई इंसान कैसे कर सकता है।



क्या है पूरी घटना…

{ यह भी पढ़ें:- भाई की तलाश में निकली 12 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप, सोती रही एमपी पुलिस }

  • उरई के शांति नगर इलाके में रहने वाले एक मजदूर की बेटी शाम को करीब साढ़े सात बजे के आस पास घर के बाहर खेल रही थी। तभी वहीँ इनका पड़ोसी रवि अपने तीन साथी समेत बच्ची को टॉफी-बिस्कुट खिलाने की बात कहकर चला गया|
  • रवि बच्ची को लेकर अपने दो साथियों के साथ एक निर्माणाधीन मकान में चला गया और शराब के नशे में मासूम के साथ गैंगरेप किया।
  • रेप की घटना को अंजाम देने के बाद खून से लथपथ बच्ची को छोड़ आरोपी फरार हो गए।
  • पहले परिजनों को शक था कि बच्ची कहीं गायब हो गयी है इसलिए मोहल्ले में खोजबीन जारी रही ।
  • काफी खोजबीन के बाद बच्ची को अधमरी हालत में निर्माणाधीन मकान में मिली।
  • खून से लथपथ बच्ची को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, जहां बच्ची की हालत नाजुक बताई जा रही है।
  • डाक्टरों ने रेप की पुष्टि करते हुए कहा कि बच्ची की हालत बेहद नाजुक है और इसे बचा पाना बेहद मुश्किल है।
  • मामला पुलिस के संज्ञान में आते ही बिना देर किए हुए एक रवि नामक एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
  • पुलिस ने आरोपी रवि को गिरफ्तार कर बाकी दो लड़कों की तलाश शुरू कर दी है वहीं रवि से पूछताछ जारी है।

Loading...