कश्मीर में घुसपैठ की तैयारी में 200-300 आतंकी: डीजीपी

DGP dilbagh singh
कश्मीर में घुसपैठ की तैयारी में 200-300 आतंकी: डीजीपी

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना ​है कि राज्य में अभी 200 से 300 आतंकी सक्रिय हैं। हाल में पाकिस्तान सीजफायर उल्लंघन की आड़ में और आतंकियों की कश्मीर में घुसपैठ कराने की फिराक में है। डीजीपी के मुताबिक, पीओके से बड़ी संख्या में आतंकी राज्य में घुसने में सफल रहे हैं और सुरक्षाबलों ने घुसपैठ की कई घटनाओं को नाकाम भी किया है।

200 300 Terrorists In Readiness To Infiltrate Kashmir Dgp :

डीजीपी ने कहा कि कश्मीर और जम्मू दोनों क्षेत्रों में एलओसी पर संघर्षविराम उल्लंघन की कई घटनाएं हुईं। आरएस पुरा और अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे हीरानगर, पुंछ, राजौरी, नांबला, करनाह और केरन में घुसपैठ की कोशिशें जारी हैं। पाकिस्तान गोलाबारी की आड़ में आतंकियों की घुसपैठ कराना चाहता है लेकिन हम इसे रोकने को तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि 29 सितंबर से गंदेरबल में चार दिनों तक चले ऑपरेशन में दो आतंकवादियों को मार गिराया गया और गुलमर्ग सेक्टर से दो पाकिस्तानी आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया। आतंकवादियों की मौजूदगी कुछ स्थानों पर देखी गई है और उनके खिलाफ अभियान तेज कर दिया गया है। जम्मू, लेह और कारगिल में हालात सामान्य हैं। बाजार खुले हैं। कारोबार सही तरीके से चल रहा है।

आपको बता दें केि पुलिस ने रविवार को बारामूला इलाके से जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने उसके पास से भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामद किए थे।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना ​है कि राज्य में अभी 200 से 300 आतंकी सक्रिय हैं। हाल में पाकिस्तान सीजफायर उल्लंघन की आड़ में और आतंकियों की कश्मीर में घुसपैठ कराने की फिराक में है। डीजीपी के मुताबिक, पीओके से बड़ी संख्या में आतंकी राज्य में घुसने में सफल रहे हैं और सुरक्षाबलों ने घुसपैठ की कई घटनाओं को नाकाम भी किया है। डीजीपी ने कहा कि कश्मीर और जम्मू दोनों क्षेत्रों में एलओसी पर संघर्षविराम उल्लंघन की कई घटनाएं हुईं। आरएस पुरा और अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे हीरानगर, पुंछ, राजौरी, नांबला, करनाह और केरन में घुसपैठ की कोशिशें जारी हैं। पाकिस्तान गोलाबारी की आड़ में आतंकियों की घुसपैठ कराना चाहता है लेकिन हम इसे रोकने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि 29 सितंबर से गंदेरबल में चार दिनों तक चले ऑपरेशन में दो आतंकवादियों को मार गिराया गया और गुलमर्ग सेक्टर से दो पाकिस्तानी आतंकवादियों को गिरफ्तार किया गया। आतंकवादियों की मौजूदगी कुछ स्थानों पर देखी गई है और उनके खिलाफ अभियान तेज कर दिया गया है। जम्मू, लेह और कारगिल में हालात सामान्य हैं। बाजार खुले हैं। कारोबार सही तरीके से चल रहा है। आपको बता दें केि पुलिस ने रविवार को बारामूला इलाके से जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने उसके पास से भारी मात्रा में विस्फोटक और हथियार बरामद किए थे।