ईवीएम और वीवीपैट के मुद्दे पर चुनाव आयोग पहुंची 22 पार्टियां, दर्ज कराई शिकायत

chandar babu
ईवीएम और वीवीपैट के मुद्दे पर चुनाव आयोग पहुंची 22 पार्टियां, दर्ज कराई शिकायत

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के सीएम चन्द्रबाबू नायडू ने 22 विपक्षी दलों के नेताओं के साथ मंगलवार चुनाव आयोग से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने चुनाव आयोग को ज्ञापन सौंपा। इस प्रतिनिधमण्डल ने मांग की है कि किसी पोलिंग बूथ में विसंगति पाए जाने की स्थिति में पूरे विधानसभा क्षेत्र में ईवीएम के आंकड़ों का VVPAT पर्चियों से मिलान कराया जाना चाहिए।

22 Parties Reached Ec On Issue Of Evm And Vvpat Lodged Complaint :

प्रतिनिधिमंडल की अगुआई चंद्रबाबू नायडू ने की। इस प्रतिनिधमंडल में कांग्रेस, एनसीपी, बसपा, माकपा, भाकपा और टीएमसी के नेता शामिल थे। बता दें कि लोकसभा चुनाव के परिणा आने से पहले आज विपक्षी दल के नेताओं ने दिल्ली में बैठक की है। इस बैठक में मतगणना के बाद गैर राजग सरकार के गठन को लेकर विपक्षी नेताओं के बीच विचार-विमर्श हुआ।

गौरतलब है कि चन्द्रबाबू नायडू काफी दिनों से ईवीएम में कथित गड़बड़ी की शिकायत चुनाव आयोग से कर रहे हैं। उन्‍होंने चुनाव आयोग से लोकसभा चुनावों की मतगणना के दौरान ईवीएम के बजाय VVPAT से मतों की गिनती करने का आग्रह किया था। नायडू ने सोमवार को अपना विरोधी स्वर तेज करते हुए कहा था कि इस समय राजनीतिक पार्टियां ईवीएम की सुरक्षा में लगी हैं क्योंकि ऐसी अफवाह है कि फ्रीक्वेंसी की मदद से ईवीएम में स्टोर डेटा बदला जा सकता है।

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के सीएम चन्द्रबाबू नायडू ने 22 विपक्षी दलों के नेताओं के साथ मंगलवार चुनाव आयोग से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने चुनाव आयोग को ज्ञापन सौंपा। इस प्रतिनिधमण्डल ने मांग की है कि किसी पोलिंग बूथ में विसंगति पाए जाने की स्थिति में पूरे विधानसभा क्षेत्र में ईवीएम के आंकड़ों का VVPAT पर्चियों से मिलान कराया जाना चाहिए। प्रतिनिधिमंडल की अगुआई चंद्रबाबू नायडू ने की। इस प्रतिनिधमंडल में कांग्रेस, एनसीपी, बसपा, माकपा, भाकपा और टीएमसी के नेता शामिल थे। बता दें कि लोकसभा चुनाव के परिणा आने से पहले आज विपक्षी दल के नेताओं ने दिल्ली में बैठक की है। इस बैठक में मतगणना के बाद गैर राजग सरकार के गठन को लेकर विपक्षी नेताओं के बीच विचार-विमर्श हुआ। गौरतलब है कि चन्द्रबाबू नायडू काफी दिनों से ईवीएम में कथित गड़बड़ी की शिकायत चुनाव आयोग से कर रहे हैं। उन्‍होंने चुनाव आयोग से लोकसभा चुनावों की मतगणना के दौरान ईवीएम के बजाय VVPAT से मतों की गिनती करने का आग्रह किया था। नायडू ने सोमवार को अपना विरोधी स्वर तेज करते हुए कहा था कि इस समय राजनीतिक पार्टियां ईवीएम की सुरक्षा में लगी हैं क्योंकि ऐसी अफवाह है कि फ्रीक्वेंसी की मदद से ईवीएम में स्टोर डेटा बदला जा सकता है।