22 साल की लड़की ने बिरयानी के लिए फूंक डाली 42 बसें

बेंगलुरु| बेंगलुरु में 12 सितम्बर को हुई हिंसा में आरोपी पाई गई 22 साल की भाग्या ने बताया है कि उसको हिंसा भड़काने के लिए बिरयानी और 100 रुपये का लालच दिया गया था| भाग्या ने एक ट्रैवल कंपनी के गैरेज में खड़ी 42 बसों पर डीजल डाल कर आग लगा दी थी| इतना ही नहीं उसने लोगों को भी हिंसा भड़काने के लिए उकसाया था|




आग लगाते हुए ट्रैवल कंपनी में काम करने वाले लोगों ने भाग्या का विडियो बना लिया था| सीसीटीवी फुटेज में भाग्या और लोगो को भी हिंसा के लिए उकसाते हुए नजर आ रहीं है और बसों पर डीजल डालती हुई भी दिख रहीं हैं| पुलिस ने इस मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया है|

भाग्या की मां ने बताया कि कुछ लोगों ने हिंसा भड़काने के लिए भाग्या को मटन बिरयानी और 100 रुपये का लालच दिया था| भाग्या अपने परिवार के साथ केपीएन गैरेज के पास ही रहती है| उसके घर में कोई और कमाने वाला नहीं है| भाग्या ही काम करके घर चलाती है| पैसों और बिरयानी के लालच में आकर भाग्या हिंसा भड़काने के लिए तैयार हो गई थी|




पुलिस ने बताया कि हिंसा में और महिलाएं भी शामिल थीं पर उनका चेहरा साफ नहीं आया है इसलिए उन लोगों के ऊपर करवाई नहीं हो पा रही है| फिलहाल भाग्या से पूछताछ जारी है| पुलिस ने कहा है कि अभी ये कहना सही नहीं होगा कि भाग्या ही प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रही थी|

Loading...