1. हिन्दी समाचार
  2. गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत हर जिले में 25000 प्रवासी मजदूरों को मिलेगा काम : निर्मला सीतारमण

गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत हर जिले में 25000 प्रवासी मजदूरों को मिलेगा काम : निर्मला सीतारमण

25000 Migrant Laborers To Be Provided Work In Every District Under Garib Kalyan Rojgar Abhiyan Nirmala Sitharaman

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने योजना बनानी शुरू कर दी है। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 जून को ‘गरीब कल्याण रोजगार मिशन’ की शुरुआत करेंगे। इस अभियान के तहत 6 राज्यों के 116 जिलों में 125 दिनों तक प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए मिशन मोड में चलाया जायेगा। गुरुवार को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने इसकी जानकारी दी है।

पढ़ें :- गूगल की Gmail यूर्जस को चेतावनी, शर्तें और नियम ना मानने पर बन्द हो जाएंगी ये सुविधायें

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि इस अभियान के तहत सरकार के 25 स्कीम्स में 50,000 करोड़ रुपये के काम कराए जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रवासी मजदूरों को उनके स्किल के अनुसार काम ​दिया जायेगा। बता दें कि कोरोना संकट के दौरान 116 जिलों में बड़ी संख्या में मजदूरों की वापसी हुई है, ये जिले 6 राज्यों में हैं। इन लोगों कै कौशल की सरकार ने मैपिंग की है।

इस अभियान में तहत बिहार के 32, उत्तर प्रदेश के 31, मध्य प्रदेश के 24, राजस्थान के 22 , ओडिशा के 4, झारखंड के 3 जिलों के प्रवासी मजदूरों को रोजगार मिलेगा। वित्त मंत्रालय ने बताया इस अभियान के तहत कम्युनिटी सैनिटाइजेशन कॉम्पलेक्स, ग्राम पंचायत भवन, वित्त आयोग के फंड के अंतर्गत आने वाले काम, नैशनल हाइवे वर्क्स, जल संरक्षण और सिंचाई, कुएं की खुदाई, पौधारोपण, हॉर्टिकल्चर, आंगनवाड़ी केंद्र, पीएमआवास योजना (ग्रामीण), पीएम ग्राम संड़क योजना, रेलवे, श्यामा प्रसाद मुखर्जी RURBAN मिशन, पीएम KUSUM, भारत नेट के फाइबर ऑप्टिक बिछाने, जल जीवन मिशन आदि के काम कराए जाएंगे।

बता दें कि, इस योजना की शुरुआत बिहार के खगड़िया जिले के बेलदौर ब्लॉक के तेलिहर गांव से होगी। इस मौके पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी भी मौजूद रहेंगे। इसके साथ ही साथ अभियान को देश के छह राज्यों के 116 जिलों में शुरू किया जाएगा। अभियान को शुरू करने के मौके पर इन राज्यों के मुख्यमंत्री और सबंद्ध मंत्रालय के मंत्री भी विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे।

 

पढ़ें :- किसान आंदोलन : कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का दावा, जल्द समाप्त होगा किसानों का प्रदर्शन

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...