1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. 26/11 Mumbai Attack: 13 साल बाद भी नहीं भर पाये जख्म, पाकिस्तान का आतंकी चेहरा हुआ था उजागर

26/11 Mumbai Attack: 13 साल बाद भी नहीं भर पाये जख्म, पाकिस्तान का आतंकी चेहरा हुआ था उजागर

26/11 Mumbai Attack: आज से 13 साल पहले मुंबई समेत पूरा देश हिल गया था। पाकिस्तान से आए लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के 10 आतंकवादियों ने मुंबई को बम धमाकों और गोलीबारी से दहला दिया था। इस घटना के बाद पाकिस्तान का आतंकी चेहरा दुनिया के सामने आ गया था। 26/11 की घटना आज भी याद करते हुए लोग सहम जाते हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

26/11 Mumbai Attack: आज से 13 साल पहले मुंबई समेत पूरा देश हिल गया था। पाकिस्तान से आए लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) के 10 आतंकवादियों ने मुंबई को बम धमाकों और गोलीबारी से दहला दिया था। इस घटना के बाद पाकिस्तान का आतंकी चेहरा दुनिया के सामने आ गया था। 26/11 की घटना आज भी याद करते हुए लोग सहम जाते हैं।

पढ़ें :- Corona new variants: कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर UP सरकार अलर्ट, इन जिलों में विशेष नजर रखने के निर्देश

इस हमले में 160 से ज्यादा लोगों की जान गई थी, जबकि 300 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। इस आतंकी हमले को आज 13 साल हो जाएंगे लेकिन यह भारतीय इतिहास का वो काला दिन है जिसे कोई चाह कर भी नहीं भुला सकता। बता दें कि, इस घटना से तीन दिन पहले यानी 23 नवंबर को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी नाव के जरिए मुंबई पहुंचे थे।

आतंकी जिस नाव पर आए थे, वो भारतीय थी। आतंकियों ने नाव पर सवार चार लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी थी। इसके बाद नाव को अपने कब्जे में लेकर रात तकरीबन आठ बजे आतंकी कोलाबा के पास कफ परेड के मछली बाजार पर उतरे थे। यहां से आतंकी चार समूहों में बंट गए थे, जिसके बाद वो आगे बढ़े थे।

इसके बाद लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकियों ने मुंबई के ताज होटल पर हमला कर दिया था और 4 दिनों में 12 हमलों को अंजाम दिया था। ताजमहल पैलेस होटल, नरीमन हाउस, मेट्रो सिनेमा और छत्रपति शिवाजी टर्मिनस सहित अन्य स्थानों पर हुए हमलों में 15 देशों के 166 लोगों की जान गयी थी।

पढ़ें :- मुंबई में किसान महापंचायत: राकेश टिकैत बोले-MSP की गारंटी देने वाला कानून लाए केंद्र सरकार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...