2nd T-20: दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों के सामने भारत नतमस्तक, 92 रनों पर हुई ढेर

कटक। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच कटक के बाराबती स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टी-20 मैच में भारत ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका के सामने जीत के लिए 93 रनों का मालूमी सा लक्ष्य रखा है। दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों के आगे पूरी टीम 17.2 ओवरों में आउट हो गई। भारत के ओर से रोहित शर्मा व सुरेश रैना ने सर्वाधिक 22 रनों की पारी खेली है। उनके अलावा शिखर धवन (11) और रविचंद्रन अश्विन ही दहाई के अंक तक पहुँच सके हैं। दक्षिण अफ्रीका की ओर से एल्बी मोर्कल सबसे सफल गेंदबाज रहे। उनके खाते में तीन विकेट गए।

पहले बल्लेबाजी करने उतरे भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और रोहित शर्मा ने संभलकर खेलते हुए टीम को एक अच्छी शुरुआत दी। इस दौरान रोहित शर्मा ने अपने स्वभाव ने अनुकूल खेलते हुए बीच-बीच में बाउंड्री लगाकर रन भी बटोरे। भारत को पहला झटका चौथे ओवर की आखिरी गेंद पर लगा। क्रिस मॉरिस ने शिखर धवन को पगबाधा आउट कर पेवेलियन की ओर रवाना कर दिया। इस समय टीम का स्कोर 28 रन था। धवन 11 रन बनाकर आउट हुए।

अभी टीम के स्कोर में मात्र दो रन ही जुड़े थे कि बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर आए विराट कोहली भी चलते बने। वह दूसरा रन लेने की चक्कर में रन आउट हो गए। कोहली ने मात्र एक रन बनाया। अब बल्लेबाजी के लिए रोहित शर्मा का साथ देने के लिए सुरेश रैना मैदान पर आए। उन्होने रोहित शर्मा के साथ मिलकर संभलकर खेलते हुए लड़खड़ाती भारतीय पारी को आगे बढ़ाने की कोशिश जरूर की लेकिन इस बार पिछले मैच के शतकवीर रोहित शर्मा अपना विकेट गंवा बैठे।

रोहित शर्मा आठवें ओवर की पाँचवी गेंद पर रन आउट हो गए। उन्होने 24 गेंदों में दो चौकों की मदद से 22 रन बनाए। इस समय टीम का स्कोर 43 रन था। उनके आउट होने पर अंबाती रायडू मैदान पर बल्लेबाजी करने आए, लेकिन वह ज्यादा देर तक मैदान पर टिक न सके और रबाड़ा द्वारा फेंके जा रहे नौवें ओवर की तीसरी ही गेंद पर बोल्ड आउट हो गए। वह अपना खाता भी नहीं खोल रहे।   

अब बल्लेबाजी की ज़िम्मेदारी बल्लेबाजी करने उतरे कप्तान महेंद्र सिंह धोनी व सुरेश रैना के कंधों पर थी। शुरुआती 10 ओवरों में भारतीय टीम का स्कोर 58 रन था, इस समय सुरेश रैना 16 और कप्तान धोनी दो रन बनाकर मैदान पर टिके थे जबकि टीम के चार बल्लेबाज आउट होकर पेवेलियन लौट गए थे।

अभी दोनों बल्लेबाजों के बीच हो रही साझेदारी 22 रनों रात की पहुंची थी कि 11वें ओवर की चौथी गेंद पर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एल्बी मोर्कल का शिकार हो गए। वह मात्र पाँच रन ही बना सके। उनके आउट होने पर अक्षर पटेल बल्लेबाजी के लिए मैदान पर आए। इस बार बारी सुरेश रैना की थी। वह 13वें ओवर की तीसरी गेंद पर इमरान ताहिर का शिकार हो हुए। उन्होने 24 गेंदों में तीन चौके की मदद से 22 रन बनाए। अगली ही गेंद पर इमरान ताहिर ने भारत को एक झटका और दे दिया। बल्लेबाजी करने आए हरभजन सिंह पहली ही गेंद पर बोल्ड आउट हो गए। अभी तीन का स्कोर मात्र 69 रन ही था।

अब भारतीय टीम को अपने पुछल्ले बल्लेबाजों से ही कुछ उम्मीद थी। टीम ने अपने शुरुआती सात विकेट गंवा चुकी थी। रविचन्द्र अश्विन व अक्षर पटेल मैदान पर टिके थे। 15 ओवर के अंत में टीम का स्कोर 81/7 था। अश्विन 8 और अक्षर पटेल 6 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। हालांकि 16वें ओवर की चौथी गेंद पर अक्षर पटेल एल्बी मोर्कल का शिकार हो गए। वह 85 रनों के कुल योग पर नौ रन बनाकर आउट हुए। उनके आउट होने के बाद भुवनेश्वर कुमार बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरे। इसी ओवर की आखिरी गेंद पर वह भी बिना खाता खोले अपना विकेट गंवा बैठे।

टीम का आखिरी विकेट अश्विन के रूप में 18वें ओवर की दूसरी गेंद पर गिरा। वे क्रिस मॉरिस की गेंद पर बोल्ड आउट हो गए। दक्षिण अफ्रीका की ओर से एल्बी मोर्कल ने तीन, इमरान ताहिर व क्रिस मॉरिस ने दो-दो जबकि रबाड़ा ने एक विकेट हासिल किया।