चीन बॉर्डर पर 3 जवान शहीद: ओवैसी ने कहा-उनका बलिदान व्यर्थ ना जाए, सरकार ले बदला

owaisi
चीन बॉर्डर पर 3 जवान शहीद: ओवैसी ने कहा-उनका बलिदान व्यर्थ ना जाए, सरकार ले बदला

नई दिल्ली। लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक टकराव में भारतीय सेना के एक अधिकारी और दो जवानों के शहीद हो गए। वहीं, चीन के भी पांच सैनिक मारे गए हैं। इस बीच AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का बयान आया है। उन्होंने कहा कि इस झड़प में तीन बहादुर शहीदों के साथ देश खड़ा है।

3 Soldiers Martyred At China Border Owaisi Said Do Not Sacrifice Their Sacrifice Take Revenge On The Government :

शहीदों के परिवार के साथ मेरी पूरी संवेदनाएं हैं। ओवैसी ने कहा है कि बॉर्डर पर कमांडिंग ऑफिसर सामने से अगुवाई कर रहे थे और सरकार को इनकी शहादत का बदला लेना चाहिए। साथ ही सुनिश्चित करना चाहिए कि उनका बलिदान व्यर्थ ना जाए।

बता दें कि, सोमवार रात चीन और भारतीय सेना के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इस झड़प में भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए। ये घटना तब हुई जब सोमवार रात को गलवान घाटी के पास दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद सबकुछ सामान्य होने की स्थिति आगे बढ़ रह थी।

नई दिल्ली। लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक टकराव में भारतीय सेना के एक अधिकारी और दो जवानों के शहीद हो गए। वहीं, चीन के भी पांच सैनिक मारे गए हैं। इस बीच AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का बयान आया है। उन्होंने कहा कि इस झड़प में तीन बहादुर शहीदों के साथ देश खड़ा है। शहीदों के परिवार के साथ मेरी पूरी संवेदनाएं हैं। ओवैसी ने कहा है कि बॉर्डर पर कमांडिंग ऑफिसर सामने से अगुवाई कर रहे थे और सरकार को इनकी शहादत का बदला लेना चाहिए। साथ ही सुनिश्चित करना चाहिए कि उनका बलिदान व्यर्थ ना जाए। बता दें कि, सोमवार रात चीन और भारतीय सेना के बीच हिंसक झड़प हुई थी। इस झड़प में भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए। ये घटना तब हुई जब सोमवार रात को गलवान घाटी के पास दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद सबकुछ सामान्य होने की स्थिति आगे बढ़ रह थी।