स्वास्थ्य महकमे की लापरवाही का नतीजा, गोरखपुर में ऑक्सीज़न की कमी से 30 बच्चों की मौत

30 Deaths In Brd Medical College Gorakhpur

लखनऊ। यूपी के गोरखपुर में स्वास्थ्य महकमे की लापरवाही से करीब 30 मासूमों की मौत हो गयी। यहां के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में पिछले 24 घंटे में ऑक्सीज़न की कमी के चलते 30 बच्चों को अपनी जान गंवानी पड़ी। बता दें कि बीते दो दिन पहले सीएम योगी आदित्यनाथ बीआरडी मेडिकल कॉलेज का दौरा करने आए थे और प्रशासन को स्वास्थ्य सेवाओं के लिये सख्त हिदायत भी दी थी।

सूत्रों की मानें तो मेडिकल कालेज के नेहरु अस्‍पताल में सप्‍लाई करने वाली फर्म का 69 लाख रुपए का भुगतान बकाया था जिसके चलते गुरुवार शाम को फर्म ने अस्‍पताल में लिक्विड ऑक्‍सीजन की आपूर्ति ठप कर दी। गुरुवार से ही मेडिकल कालेज में जम्‍बो सिलेंडरों से गैस की आपूर्ति की जा रही है। बीआरडी मेडिकल कालेज में दो साल पहले लिक्विड आक्‍सीजन का प्‍लांट लगाया गया था। इसके जरिए इंसेफेलाइटिस वार्ड सहित करीब तीन सौ मरीजों को पाइप के जरिए आक्‍सीजन दी जाती है।

दो दिन पहले मिल गयी थी जानकारी-

ऑक्सीज़न की पूर्ति करने वाली फर्म पुष्पा सेल्स के अधिकारी दिपांकर शर्मा ने करीब 64 लाख रुपए बकाया होने पर आपूर्ति ठप करने की सूचना दो दिन पहले प्रिंसिपल को दे दी थी। गुरुवार को सेंटर पाइप लाइन ऑपरेटर ने प्रिंसिपल, एसआईसी, एचओडी एनेस्थिसिया, इंसेफेलाइटिस वार्ड के नोडल अधिकारी को पत्र के जरिए दोबारा लिक्विड ऑक्सीजन सप्लाई का स्टॉक बेहद कम होने की जानकारी दी।

इन सब जानकारियों और ऑक्सीजन सप्लाई रूकने की बात पहले से पता चल जाने के बावजूद इसके पूर्ति सुचारू रहे इसके लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया। इसका नतीजा ये हुआ कि शुक्रवार सुबह तक बीआरडी मेडिकल कॉलेज में कई जानें चली गईं।

लखनऊ। यूपी के गोरखपुर में स्वास्थ्य महकमे की लापरवाही से करीब 30 मासूमों की मौत हो गयी। यहां के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में पिछले 24 घंटे में ऑक्सीज़न की कमी के चलते 30 बच्चों को अपनी जान गंवानी पड़ी। बता दें कि बीते दो दिन पहले सीएम योगी आदित्यनाथ बीआरडी मेडिकल कॉलेज का दौरा करने आए थे और प्रशासन को स्वास्थ्य सेवाओं के लिये सख्त हिदायत भी दी थी। सूत्रों की मानें तो मेडिकल कालेज के नेहरु अस्‍पताल में सप्‍लाई…