रोहिंग्याओं की झुग्गी में मिला 30 लाख कैश, तीन गिरफ्तार

रोहिंग्याओं की झुग्गी में मिला 30 लाख कैश, तीन गिरफ्तार
रोहिंग्याओं की झुग्गी में मिला 30 लाख कैश, तीन गिरफ्तार

30 Lakh Cash Seized From Rohingya Jhuggi At Jammu Kashmir

नई दिल्ली। रोहिंग्या की झुग्गियों से 30 लाख रुपये बरामद करने के बाद पुलिस को जांच के लिए अगली कड़ी मिलना मुश्किल हो गई है। पकड़े गए रोहिंग्याओं ने बताया कि उन्हें दो बांग्लादेशियों ने बैग दिए थे। इनमें क्या था, यह उन्हें नहीं पता और अब उनके फोन भी बंद हैं।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, मुखबिरी के आधार पर झुग्‍गी में छापा मारा गया। यहां से 500 और 2000 रुपये के नए नोटों में 27 लाख रुपये तथा बाकी कम राशि के नोटों में नकदी मिली है। ऐसा पहली बार है जब म्‍यांमार से यहां आए किसी रोहिंग्‍या परिवार के पास से इतनी बड़ी रकम मिली हो। रोहिंग्‍या भारत में छोटी-मोटी नौकरियां करते हैं।

सूत्रों के अनुसार, पकड़े गए रोहिंग्‍या ने बताया कि ये पैसा इस्‍माइल (19) और नूर आलम (21) का है। उन्‍होंने पुलिस से कहा कि इस्माइल और नूरू आलम दो-तीन दिन पहले बांग्‍लादेश चले गए। पकड़े गए तीनों रोहिंग्‍या यह नहीं बता सके कि बिना वैध वीजा के वे दोनों कैसे बांग्‍लादेश जा सकते हैं। यह युवा जम्‍मू में पांच-छह साल से रह रहे थे।

रोहिग्याओं से 30 लाख रुपये बरामद किए जाने के बाद संभावना जताई जा रही है कि बांग्लादेश का आतंकी नेटवर्क भी जम्मू कश्मीर के आतंकियों को फंडिंग करने के लिए सक्रिय हो गया है। जो जम्मू कश्मीर के आतंकियों को फंडिंग कर रहा है। मादक पदार्थ, टेरर फंडिंग और आतंकी संगठनों के अचानक सक्रिय होने के कारण सुरक्षा एजेंसियां पहले से ही सक्रिय हैं।

स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकी संगठन किसी बड़ी वारदात की फिराक में हैं। इसकी सूचना भी सुरक्षा एजेंसियों के पास है। सीमा पार से अलकायदा समर्थित अंसार गजवत उल हिंद के जाकिर मूसा का आतंकी नेटवर्क, हिजबुल मुजाहिदीन, लश्कर-ए-तोयबा आतंकी संगठन पूरी तरह से राज्य में सक्रिय हो गए हैं।

मालूम हो कि म्यांमार से निकाले जाने के बाद रोहिंग्या दुनिया भर में ठिकाना खोज रहे हैं। कुछ समय पहले इन्हें लेकर देश की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हुए थे। जम्मू चेंबर ऑफ़ कॉमर्स, जम्मू एंड कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी समेत कई राजनीतिक दल रोहिंग्याओं को देश के लिए खतरा बताते हुए उन्हें बाहर निकालने की मांग कर चुके हैं।

नई दिल्ली। रोहिंग्या की झुग्गियों से 30 लाख रुपये बरामद करने के बाद पुलिस को जांच के लिए अगली कड़ी मिलना मुश्किल हो गई है। पकड़े गए रोहिंग्याओं ने बताया कि उन्हें दो बांग्लादेशियों ने बैग दिए थे। इनमें क्या था, यह उन्हें नहीं पता और अब उनके फोन भी बंद हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार, मुखबिरी के आधार पर झुग्‍गी में छापा मारा गया। यहां से 500 और 2000 रुपये के नए नोटों में 27 लाख रुपये तथा बाकी…