दो साल में 30 लोगों ने की दरिंदगी, बच्ची ने दरवाजे पर लिखा- सॉरी अम्मा

12 year old girl rape
दो साल में 30 लोगों ने की दरिंदगी, बच्ची ने दरवाजे पर लिखा- सॉरी अम्मा

नई दिल्ली। केरल के मलप्पुरम में 12 साल की बच्ची से बीते दो साल में 30 से भी ज्यादा लोगों ने दुष्कर्म किया। आरोप है कि यह सब माता-पिता की जानकारी में होता रहा। बेटी का यौन शोषण करने वाले उसके पिता के परिचित थे। आरोप है कि पैसों के लिए मां-बाप बेटी का शोषण कराते रहे। अपने साथ हो रही दरिंदगी को वह लड़की चुपचाप सब सहती रही, क्योंकि उसे अपने साथ हुए इस अन्याय से ज्यादा अपने घर की खराब माली हालत की चिंता है। शनिवार को जब इस नाबालिग पीड़िता को अधिकारी शेल्टर होम ले जा रहे थे, उस समय जाते-जाते उसने दरवाजे पर ‘सॉरी अम्मा’ लिख कर अपनी मां से माफी मांगी।

30 People Rape In Two Years Girl Writes At The Door Sorry Amma :

दो साल तक बच्ची के साथ हो रही दरिंदगी तब सामने आई जब लड़की की खराब सेहत को देखते हुए एक पड़ोसी ने उसके स्कूल को जानकारी दी। पुलिस ने इस मामले में लड़की के पिता समेत तीन लोगों को अरेस्ट किया है, लेकिन लड़की अभी भी नहीं चाहती कि उसके पिता के साथ कुछ बुरा हो। उसका मानना है कि उसके पिता को अगर जेल हुई तो घर के हालात और खराब हो जाएंगे।

पड़ोसी महिला की शिकायत के बाद पीड़िता की काउंसिलंग कराई गई। केरल पब्लिक एजुकेशन डिपार्टमेंट के साथ काम करने वाली काउंसलर ने बताया कि बच्ची को परिवार की खराब आर्थिक स्थिति, घर का किराया और बीमार दादी की चिंता तो है, लेकिन अपने साथ हुए यौन शोषण का एहसास नहीं है।

जब बच्ची से पूछा गया कि उसके घर में क्या चल रहा है तो वह रोने लगी। उसने बताया कि उसके परिवार में बीमार दादी हैं, घर के हालात बहुत खराब हैं, वे मकान का किराया तक नहीं दे पा रहे हैं। उसे चिंता थी कि अगर उसके पिता को गिरफ्तार कर लिया गया तो परिवार संकट में फंस जाएगा।

लड़की से बात करने के बाद काउंसलर ने बताया कि लड़की का पिता बेरोजगार है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि पहले उसने अपनी पत्नी को देह व्यापार करने पर मजबूर किया होगा और फिर अपनी मासूम बच्ची को इस आग में झोंक डाला होगा।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि मजिस्ट्रेट के सामने पीड़िता का बयान दर्ज किया गया है और मेडिकल रिपोर्ट में भी दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। मामले में लड़की के पिता समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

लड़की के पिता पर जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है, जबकि अन्य दो लोगों पर पॉक्सो एक्ट और आईपीसी की धारा 354 और 376 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि मामले में अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

सबसे पहले पिता के दोस्त ने किया दुष्कर्म

बच्ची ने काउंसलर को बताया कि सबसे पहले उसके पिता के एक दोस्त ने उसके साथ दुष्कर्म किया। वह उसके परिवार को पैसे दिया करता था। बाद में और लोग भी उसका यौन शोषण करते रहे। बच्ची ने कहा कि वह एक अन्य तीसरे शख्स से नहीं मिली, जो कि लोगों से पैसे वसूल करता था।

नई दिल्ली। केरल के मलप्पुरम में 12 साल की बच्ची से बीते दो साल में 30 से भी ज्यादा लोगों ने दुष्कर्म किया। आरोप है कि यह सब माता-पिता की जानकारी में होता रहा। बेटी का यौन शोषण करने वाले उसके पिता के परिचित थे। आरोप है कि पैसों के लिए मां-बाप बेटी का शोषण कराते रहे। अपने साथ हो रही दरिंदगी को वह लड़की चुपचाप सब सहती रही, क्योंकि उसे अपने साथ हुए इस अन्याय से ज्यादा अपने घर की खराब माली हालत की चिंता है। शनिवार को जब इस नाबालिग पीड़िता को अधिकारी शेल्टर होम ले जा रहे थे, उस समय जाते-जाते उसने दरवाजे पर 'सॉरी अम्मा' लिख कर अपनी मां से माफी मांगी। दो साल तक बच्ची के साथ हो रही दरिंदगी तब सामने आई जब लड़की की खराब सेहत को देखते हुए एक पड़ोसी ने उसके स्कूल को जानकारी दी। पुलिस ने इस मामले में लड़की के पिता समेत तीन लोगों को अरेस्ट किया है, लेकिन लड़की अभी भी नहीं चाहती कि उसके पिता के साथ कुछ बुरा हो। उसका मानना है कि उसके पिता को अगर जेल हुई तो घर के हालात और खराब हो जाएंगे। पड़ोसी महिला की शिकायत के बाद पीड़िता की काउंसिलंग कराई गई। केरल पब्लिक एजुकेशन डिपार्टमेंट के साथ काम करने वाली काउंसलर ने बताया कि बच्ची को परिवार की खराब आर्थिक स्थिति, घर का किराया और बीमार दादी की चिंता तो है, लेकिन अपने साथ हुए यौन शोषण का एहसास नहीं है। जब बच्ची से पूछा गया कि उसके घर में क्या चल रहा है तो वह रोने लगी। उसने बताया कि उसके परिवार में बीमार दादी हैं, घर के हालात बहुत खराब हैं, वे मकान का किराया तक नहीं दे पा रहे हैं। उसे चिंता थी कि अगर उसके पिता को गिरफ्तार कर लिया गया तो परिवार संकट में फंस जाएगा। लड़की से बात करने के बाद काउंसलर ने बताया कि लड़की का पिता बेरोजगार है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि पहले उसने अपनी पत्नी को देह व्यापार करने पर मजबूर किया होगा और फिर अपनी मासूम बच्ची को इस आग में झोंक डाला होगा। पुलिस अधिकारी ने बताया कि मजिस्ट्रेट के सामने पीड़िता का बयान दर्ज किया गया है और मेडिकल रिपोर्ट में भी दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। मामले में लड़की के पिता समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। लड़की के पिता पर जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है, जबकि अन्य दो लोगों पर पॉक्सो एक्ट और आईपीसी की धारा 354 और 376 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि मामले में अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

सबसे पहले पिता के दोस्त ने किया दुष्कर्म

बच्ची ने काउंसलर को बताया कि सबसे पहले उसके पिता के एक दोस्त ने उसके साथ दुष्कर्म किया। वह उसके परिवार को पैसे दिया करता था। बाद में और लोग भी उसका यौन शोषण करते रहे। बच्ची ने कहा कि वह एक अन्य तीसरे शख्स से नहीं मिली, जो कि लोगों से पैसे वसूल करता था।