1. हिन्दी समाचार
  2. PM केअर्स फंड से 3100 करोड़ जारी, प्रवासी मजदूरों पर खर्च होंगे 1000 करोड़

PM केअर्स फंड से 3100 करोड़ जारी, प्रवासी मजदूरों पर खर्च होंगे 1000 करोड़

3100 Crores Released From Pm Cares Fund 1000 Crores Will Be Spent On Migrant Laborers

By रवि तिवारी 
Updated Date

पीएम केयर्स फंड से कोरोना से जंग के लिए 3100 करोड़ रुपए जारी किए जाएंगे। इस राशि से 2000 करोड़ से वेंटीलेटर खरीदे जाएंगे जबकि 1000 करोड़ प्रवासी मजदूरों के कल्याण पर खर्च किए जाएंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में यह जानकारी देते हुए कहा कि इस मद में निर्धारित 3100 करोड़ में शेष 100 करोड़ की राशि कोरोना वैक्सीन विकसित करने पर खर्च की जाएगी।

पढ़ें :- Corona Update: भारत में कोरोना के 11 हजार नए मामले, 123 मौतें दर्ज

पीएम केयर्स फंड से प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 करोड़

प्रवासी मजदूरों की समस्याओं को लेकर तेज हो रही राजनीति के बीच सरकार ने पीएम केयर्स फंड से उनके आवागमन, खानपान, चिकित्सा जैसी जरूरतों को पूरा करने के लिए 1000 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। राज्यों को दिया गया यह फंड जिलाधिकारी और निगम आयुक्त के अधीन रहेगा।  राज्यों में सरकारी की तरफ से चलाए जा रहे कोविड स्पेशल हॉस्पिटल में भारत में निर्मित 50 हजार वेंटिलेटर की आपूर्ति के लिए भी दो हजार करोड़ रुपये दिए गए हैं। जबकि वैक्सीन के विकास के लिए 100 करोड़ रुपये दिए गए हैं। वैक्सीन विकास के लिए जारी फंड का उपयोग प्रधानमंत्री के वैज्ञानिक सलाहकार की निगरानी में होगा।

पहले लॉकडाउन के काल से अब तक प्रवासियों का मुद्दा बहुत गरमाया हुआ है। उनके लिए ट्रेन का इंतजाम हुआ तो भी विवाद खड़ा हुआ और राजनीति गरमाई। प्रधानमंत्री ने 20 लाख करोड़ के पैकेज का एलान किया तो भी विपक्षी दलों की ओर से प्रवासियों का मुद्दा उठा। ऐसे में पैकेज की पहली किस्त की घोषणा के साथ ही पीएम केयर्स फंड से सरकार ने प्रवासियों के लिए 1000 करोड़ का इंतजाम कर विवाद को थामने की कोशिश की है।

जितना बड़ा राज्य और जहां जितने कोरोना संक्रमित उतना अधिक फंड

पढ़ें :- दिल्ली में 2.8 तीव्रता का भूकंप

राज्यों को एक फार्मूले के तहत यह फंड दिया जाएगा। इसका आधार राज्यों की जनसंख्या, कोरोना संक्रमितों की संख्या को बनाया गया है। यानी जो जितना बड़ा राज्य और जहां जितने कोरोना संक्रमित उस राज्य को इसमें उतना अधिक फंड। लेकिन दस फीसद हिस्सा हर राज्य को दिया जाएगा ताकि वहां न्यूनतम व्यवस्था रहे। यह फंड राज्य के आपदा राहत आयुक्त की ओर से सीधे जिलाधिकारी या निगम आयुक्त को दिया जाएगा। पीएम केयर्स फंड से राहत पैकेज का एलान करते हुए प्रधानमंत्री ने उन सभी का धन्यवाद किया जिन्होंने इसमें दान दिया है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में गठित पीएम केयर्स फंड रक्षा मंत्री, गृहमंत्री और वित्तमंत्री सदस्य होते हैं।

पीएम मोदी ने पीएम केयर्स फंड में योगदान करने वालों का अभार व्यक्त किया

उल्लेखनीय है प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में 27 मार्च को पीएम केयर्स फंड की स्थापना हुई थी। इस फंड के अन्य सदस्यों में रक्षा मंत्री, गृहमंत्री और वित्तमंत्री शामिल हैं। बयान में कहा गया है कि पीएम केयर्स फंड में योगदान करने वाले सभी लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आभार व्यक्त किया है। जानकारी के अनुसार 2000 करोड़ से 50,000 भारत में निर्मित वेंटीलेटर खरीदे जाएंगे। ये वेंटीलेटर कोविड-19 का इलाज कर रहे सरकारी अस्पतालों को उपलब्ध कराए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...