1. हिन्दी समाचार
  2. डेढ़ माह दौरान कराची में दफनाए गए 3,265 शव, पाकिस्तान सरकार नहीं बता रही वजह

डेढ़ माह दौरान कराची में दफनाए गए 3,265 शव, पाकिस्तान सरकार नहीं बता रही वजह

3265 Bodies Buried In Karachi During One And Half Month Pakistan Government Is Not Giving Reason

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

पेशावर: अपने जिगरी दोस्त चीन की तरह ही पाकिस्तान द्वारा भी कोरोना वायरस के असली आंकड़े छिपाए जाने की आशंका है। पाक से मिलने वाली मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, अकेले कराची शहर में 49 दिनों में 3265 शव दफनाए गए। यह आंकड़ा कराची शहर के सिर्फ 30 कब्रिस्तानों का है। ज्यादातर लोगों की मौत की कोई वजह या तो बताई नहीं गई या फिर इनके टेस्ट ही नहीं किए गए।

पढ़ें :- विश्व के सबसे बड़े पर्यटन क्षेत्र के रूप में उभर रहा है केवड़िया: PM मोदी

दूसरी तरफ, शुक्रवार शाम तक यहां कुल सात हजार 300 मामले सामने आए। इस दौरान आधिकारिक तौर पर 137 लोगों के मरने की पुष्टि की गई। रिपोर्ट के मुताबिक, 30 कब्रिस्तानों में 49 दिन में 3265 लोगों को दफनाए जाने का आंकड़ा सरकारी डाटा से मिला है।

दरअसल, मीडिया के कुछ हिस्सों में कई दिन से यह खबरें आ रही हैं कि कोरोना से पाकिस्तान में बड़ी संख्या में लोग मारे जा चुके हैं। लेकिन, सरकार इनकी पुष्टि नहीं कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आंकड़े और मौत की वजह छिपाई जाती है तो यह बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। कराची के सरकार अस्पतालों से लिए गए आंकड़ों के मुताबिक, इस साल शुरू के तीन महीनों यानी जनवरी से लेकर मार्च तक 10 हजार 791 मरीजों को इमरजेंसी में लाया गया। इनमें से 121 की अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई।

रिपोर्ट के मुताबिक, किसी भी मरीज की मौत की वजह के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई और न ही इनके टेस्ट किए गए। हैरानी की बात ये है कि अस्पतालों ने भी मौत का कारण जानने की कोशिश नहीं की। यह भी पता लगाने की कोशिश नहीं की गई कि कहीं इन लोगों के मरने की वजह कोविड-19 तो नहीं है।

पढ़ें :- सीएम योगी ने झांसी में स्ट्रॉबेरी महोत्सव का किया वर्चुअल शुभारम्भ, कहा-बुन्देलखण्ड में मिलेगी ...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...