सीएम योगी का बड़ा एक्शन, 37 आईएएसस अधिकारियों के तबादले, डीएम गोरखपुर हटे

CM-Yogi-Adityanath
यूपी में 37 आईएएसस अधिकारियों के तबादले, डीएम गोरखपुर हटे
लखनऊ । उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उप चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा को मिली हार के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए शुक्रवार को देर रात गोरखपुर के जिलाधिकारी राजीव रौतेला समेंत 37 अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं। जिनमें चार अपर मुख्य सचिव स्तरीय अधिकारियों के विभागों में भी फेरबदल किया गया है, जबकि कई जिलों के जिलाधिकारी बदले गए हैं। इस कार्रवाई को सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से…

लखनऊ । उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उप चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा को मिली हार के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए शुक्रवार को देर रात गोरखपुर के जिलाधिकारी राजीव रौतेला समेंत 37 अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं। जिनमें चार अपर मुख्य सचिव स्तरीय अधिकारियों के विभागों में भी फेरबदल किया गया है, जबकि कई जिलों के जिलाधिकारी बदले गए हैं। इस कार्रवाई को सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से किए गए पहले बड़े एक्शन के रूप में देखा जा रहा है। पूरी संभावनाएं हैं कि आने वाले 24 से 48 घंटों के भीतर कई अन्य अधिकारियों के तबादले भी हो सकते हैं।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक लंबे समय से सीएम योगी आदित्यनाथ के विश्वासपात्र रहे आईएएस अधिकारी राजीव रौतेला को गोरखपुर जिलाधिकारी के पद से हटाया गया है। उन्हें देवीपाटन मंडल का कमिश्नर नियुक्त किया गया है। उनके स्थान पर के. विजेन्द्र पाण्डियन को गोरखपुर का नया जिलाधि​कारी नियुक्त किया गया है। पाण्डियन को पूर्व तैनाती उपाध्यक्ष कानपुर विकास प्राधिकरण के पद पर मिली थी।

{ यह भी पढ़ें:- फेसबुक पर सबसे लोकप्रिय सीएम बने योगी आदित्यनाथ }

जिन अप मुख्य सचिवों के विभागों में सीएम योगी ने बदलाव किया है उनमें प्रमुख नाम आलोक सिन्हा का है जिन्हें वाणिज्यकर एवं मनोरंजन कर विभाग की जिम्मेदारी मिली है पूर्व में वह अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग में तैनात थे। अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग का ​अतिरिक्त प्रभार अनूप चंद्र पाण्डेय को सौंपा गया है। वहीं राजेन्द्र कुमार तिवारी को वाणिज्य कर एवं मनोरंजन कर विभाग के अपर मुख्य सचिव पद से छुट्टी देकर केवल श्रम एवं सेवायोजन विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

यदि बड़ी कार्रवाई की बात की जाए तो सीनियर आईएएस मुकुल सिंघल को अपर मुख्य सचिव आवास विकास एवं शहरी नियोजन विभाग की जिम्मेदारी ले ली गई है, अब वह अपर मुख्य सचिव रेशम, हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग विभाग के रूप में अपनी सेवाएं प्रदान करेंगे।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी में सरकार से लेकर संगठन तक बदलाव की तैयारी में भाजपा }

Loading...