तीसरा एकदिवसीय: भारत के सामने 271 रनों की चुनौती

राजकोट। सलामी बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक (103) के शानदार शतक और फॉफ दू प्लेसिस (60) के साथ उनकी शतकीय साझेदारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका टीम ने रविवार को यहां के सौराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर जारी तीसरे एकदिवसीय मुकाबले में भारत के सामने 271 रनों का लक्ष्य रखा है।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेहमान टीम ने राजकोट में अब तक की सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी खेलने वाले कॉक की साहस भरी बल्लेबाजी के दम पर निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 270 रन बनाए।

कॉक ने बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजे गए डेविड मिलर (33) के साथ पहले विकेट के लिए 72 रनों की साझेदारी की और फिर प्लेसिस के साथ तीसरे विकेट के लिए 118 रन जोड़ते हुए अपनी टीम को मजबूत स्थिति पहुंचाया। अपने करियर का सातवां और भारत के खिलाफ चौथा शतक लगाने वाले कॉक 210 रनों के कुल योग पर आउट हुए। कॉक की 118 गेंदों की पारी में 11 चौके और एक छक्का शामिल है।

कॉक ने इस मैदान में इयान बेल (इंग्लैंड) के 85 रनों के व्यक्तिगत सर्वाधिक योग को पीछे छोड़ा। बेल ने भारत के खिलाफ 2013 में यह स्कोर बनाया था। कॉक ने साथ ही भारत के खिलाफ सात पारियों में 500 रन पूरे किए और 8 पारियों में भारत के खिलाफ इतने रन बनाने के गैरी कर्स्टन के रिकार्ड को तोड़ा।

हाशिम अमला (5) के सस्ते में आउट होने के बाद कॉक और प्लेसिस ने 20.1 ओवरों का सामना करते हुए शतकीय साझेदारी की। इस सीरीज में लगातार तीसरा अर्धशतक लगाने वाले प्लेसिस ने 63 गेंदों का सामना कर छह चौके लगाए। कप्तान अब्राहम डिविलियर्स (4) को अक्षर पटेल ने सस्ते में पवेलियन की राह दिखाई जबकि मोहित शर्मा ने ज्यां पॉल ड्यूमिनी (14) को पांव नहीं जमाने दिया। ये दोनों विकेट क्रमश: 210 और 241 रनों के कुल योग पर गिरे।

डिविलियर्स का स्थान लेने आए फरहान बेहरादीन (नाबाद 33) ने ड्यूमिनी के साथ छठे विकेट के लिए 31 रन जोडे और फिर ड्यूमिनी की विदाई के बाद डेल स्टेन के साथ सातवें विकेट के लिए 23 रनों की साझेदारी की।

स्टेन 264 के कुल योग पर रन आउट हुए। बेहरादीन ने इसके भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर छक्के साथ पारी की समाप्ति की। उन्होंने 36 गेंदों पर एक छक्का लगाया। भारत की ओर से मोहित ने दो विकेट लिए जबकि हरभजन सिंह, अमित मिश्रा और अक्षर ने एक-एक सफलता हासिल की। भारत ने इस मैच में एक बदलाव किया। उमेश यादव के स्थान पर अमित को मौका दिया गया। दक्षिण अफ्रीकी टीम अपरिवर्तित है।

पांच मैचों की सीरीज में दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं। दक्षिण अफ्रीका ने कानपुर के ग्रीन पार्क मैदान पर खेला गया पहला मैच जीता था जबकि भारत ने इंदौर में अपना शत-प्रतिशत रिकार्ड कायम रहते हुए 1-1 की बराबरी की थी।

Loading...