50 बैंकों में जल्द ही शुरू होने वाली यूपीआई सेवा

नई दिल्ली: अब देश के बैंक में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई सर्विस) जल्द ही शुरू होने वाली है। इस योजना के तहत आपको किसी से भी पैसे मंगवाने के लिए या भेजने के लिए बैंक खाते की जानकरी की जरूरत नहीं पड़ेगी। सिर्फ यूपीआई आईडी की मदद से पैसे भेजे या मंगवाए जा सकते हैं।

मार्च 2017 तक 50 बैंक यूपीआई के जरिए अपनी सेवा शुरू कर देंगे। मौजूदा समय में ऐसे 24 बैंक ही हैं जो इस तरह की सेवा उपलब्ध करा रहे हैं। ऐसी सेवाएं ग्राहकों की सुविधा के लिए दी जाती हैं। यह एक यूनिक पेमेंट सॉल्यूशन है। यूपीआई सेवा बड़े पैमाने पर शुरू हो इससे पहले इससे जुड़ी कुछ बातों को जानना बेहद जरुरी है।




* गूगल प्ले स्टोर पर यूपीआई- समर्थित मोबाइल ऐप जो बैंक ये सेवाएं उपलब्ध कराएंगे उनके नाम इस प्रकार हैं- आंध्रा बैंक, ऐक्सिस बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, भारतीय महिला बैंक, कैनरा बैंक, कैथोलिक सीरियन बैंक, डीसीबी बैंक, फेडरल बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, टीजेएसबी सहकारी बैंक, ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स, कर्नाटक बैंक, यूको बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, साउथ इंडियन बैंक, विजया बैंक और यस बैंक।

* आईडीबीआई बैंक और आरबीएल बैंक जारीकर्ता के रूप में शामिल हैं। मसलन, उपरोक्त किसी भी यूपीआई-समर्थित एप्स को डाउनलोड करके अपने एकाउंट से जोड़ सकते हैं।




* विंडोज और iOS के लिए अभी तक किसी तरह के ऐप की बात नहीं कही गई है। गूगल प्लेस्टोर स्टोर से आप यह एप डाउनलोड करके एंड्रॉयड फोन पर इस्तेमाल कर पाएंगे। आने वाले दिनों में अगर UPI एप को iOS और विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए बनाया जाता है तो किसी भी फोन पर इस्तेमाल किया जा सकेगा।

* गूगल प्ले स्टोर पर अभी यह एप्लीकेशन उपलब्ध नहीं है।

* गूगल प्ले स्टोर से बैंकों के यूपीआई-समर्थित किसी भी ऐप को ई-मेल, आधार नंबर और मोबाइल नंबर से एक्टीवेट करना होगा।

* एक्टीवेशन के बाद आपका UPI आईडी जनरेट हो जाएगा।

* यह आईडी ही किसी भी बैंकिंग लेन-देन के लिए पर्याप्त होगा। इसके बाद आपको किसी व्यक्ति से पैसा मंगवाने के लिए बैंक खाते की जानकारी देने की आवश्यकता नहीं होगी। केवल UPI आईडी की सहायता से भी पैसे भेजे या मंगाए जा सकते हैं।

* एक दिन में न्यूनतम 50 रुपए और अधिकतम एक लाख रुपए तक की राशि के लेन-देन इसके माध्यम से किए जा सकते हैं।

* पैसे भेजने या मंगवाने के अलावा यूटीलिटी बिल का भुगतान और ऑनलाइन शॉपिंग भी UPI एप के जरिए की जा सकेगी।

* आने वाले समय में इस सर्विस को सभी बैंकों के एटीएम और ब्रांच में लगी कैश डिपॉजिट मशीन पर शुरू किया जाएगा।

आस्था सिंह की रिपोर्ट

Loading...