यूपी: प्रयागराज में अधिवक्ता की हत्या से इलाके में तनाव, 25 लाख मुआवजे की मांग

advocate-murder-prayagraj
यूपी: प्रयागराज में अधिवक्ता की हत्या से इलाके में तनाव, 25 लाख मुआवजे की मांग

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में अधिवक्ता की हत्या से इलाके में सनसनी मच गयी। बदमाशों ने सोरांव थाना क्षेत्र के फाफामऊ इलाके में गोहरी रेलवे क्रॉसिंग के पास जिला कचेहरी में वकील सुशील पटेल (50 वर्ष) को गोली मार दी और फरार हो गए। अधिवक्ता की हत्या से साथी वकीलों में आक्रोश है। सूचना पाकर एसएसवनी अतुल शर्मा व डीएम भानु चंद्र गोस्वामी कई थानों की फोर्स संग मौके पर पहुंचे थे।

50 Yr Old Advocate Sushil Patel Shot Dead In Prayagraj :

मिली जानकारी के मुताबिक अधिवक्ता सुशील पटेल सोरांव थाना क्षेत्र के लेहरा गांव के रहने वाले थे। सुशील पिछले कुछ समय से फाफामऊ के गोहरी रेलवे क्रॉसिंग के पास किराए के मकान में परिवार के साथ रह रहे थे। अधिवक्ता को गोली मारे जाने की सूचना मिलते ही प्रशासनिक महकमे में हड़कम्प मच गया। आनन फानन मौके पर कई थानों की फोर्स के साथ एसपी गंगापार सीओ सोराव पहुंचकर घटना की जांच में जुट गए।

हत्या के बाद अधिवक्ताओं ने घटना में शामिल दोषियों की गिरफ्तारी और मृतक के परिजनों को 25 लाख मुआवजा दिए जाने की मांग की है। शुरुआती पड़ताल में पता चला है कि सुशील पटेल कुछ समय पहले से प्रॉपर्टी डीलिंग का भी काम कर रहे थे। कुछ पुरानी रंजिश की बातें भी सामनें आ रहीं है। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अभी तक हत्यारों का पता नहीं चल सका है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में अधिवक्ता की हत्या से इलाके में सनसनी मच गयी। बदमाशों ने सोरांव थाना क्षेत्र के फाफामऊ इलाके में गोहरी रेलवे क्रॉसिंग के पास जिला कचेहरी में वकील सुशील पटेल (50 वर्ष) को गोली मार दी और फरार हो गए। अधिवक्ता की हत्या से साथी वकीलों में आक्रोश है। सूचना पाकर एसएसवनी अतुल शर्मा व डीएम भानु चंद्र गोस्वामी कई थानों की फोर्स संग मौके पर पहुंचे थे। मिली जानकारी के मुताबिक अधिवक्ता सुशील पटेल सोरांव थाना क्षेत्र के लेहरा गांव के रहने वाले थे। सुशील पिछले कुछ समय से फाफामऊ के गोहरी रेलवे क्रॉसिंग के पास किराए के मकान में परिवार के साथ रह रहे थे। अधिवक्ता को गोली मारे जाने की सूचना मिलते ही प्रशासनिक महकमे में हड़कम्प मच गया। आनन फानन मौके पर कई थानों की फोर्स के साथ एसपी गंगापार सीओ सोराव पहुंचकर घटना की जांच में जुट गए। हत्या के बाद अधिवक्ताओं ने घटना में शामिल दोषियों की गिरफ्तारी और मृतक के परिजनों को 25 लाख मुआवजा दिए जाने की मांग की है। शुरुआती पड़ताल में पता चला है कि सुशील पटेल कुछ समय पहले से प्रॉपर्टी डीलिंग का भी काम कर रहे थे। कुछ पुरानी रंजिश की बातें भी सामनें आ रहीं है। फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अभी तक हत्यारों का पता नहीं चल सका है।