500, 1000 रुपये के नोट अवैध घोषित, अब क्या करें

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काले धन पर लगाम लगाने के लिए अचानक सख्त कार्रवाई करते हुए मंगलवार को 500 और 1,000 रुपये के नोटों को मंगलवार मध्यारात्रि से अवैध घोषित कर दिया। मोदी ने कहा कि सरकार जल्द ही 500 और 2,000 रुपये के नए नोट जारी करेगी। बैंकों को बुधवार को सार्वजनिक कामकाज बंद रखने का आदेश दिया गया है। आइए देखते हैं आम जनता पर इसका क्या असर होगा और उसे क्या करना चाहिए -:

– पुराने 500 और 1,000 रुपये के नोट बैंक और डाकघर में 10 नवंबर से 30 दिसंबर के बीच जमा किए जा सकते हैं, जिसकी कोई सीमा नहीं है।

– बैंक और डाकघर से एक दिन में अधिकतम 10,000 रुपये और एक सप्ताह में अधिकतम 20,000 रुपये निकाले जा सकते हैं। जल्द ही इस सीमा में बढ़ोतरी की जाएगी।

– 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को बैंक, डाकघर या उप-डाकघर में पहचान पत्र दिखाकर 24 नवंबर तक नए नोटों से बदला जा सकेगा। इसकी सीमा 4,000 रुपये प्रतिदिन रखी गई है।




– बुधवार को एटीएम काम नहीं करेंगे और कुछ जगहों पर गुरुवार को भी बंद रहेंगे।

– शुरुआती दिनों में एटीएम से प्रतिदिन अधिकतम 2,000 रुपये निकाले जा सकते हैं। बाद में इसे बढ़ाकर 4,000 रुपये प्रतिदिन किया जाएगा।

– अगले 72 घंटों में सरकारी अस्पतालों, रेलवे टिकट काउंटर, सरकारी बसों, हवाईअड्डे के टिकट काउंटर तथा सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों द्वारा संचालित पेट्रोल पंप एवं गैस स्टेशनों पर 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोट चलेंगे।

केंद्र या राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त सहकारी उपभोक्ता केंद्रों, राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त दुग्ध विक्रय केंद्रों, शवदाहगृह एवं कब्रिस्तान में भी पुराने नोट स्वीकार किए जाएंगे।