झारखंड में 8 दिन से भूखी बच्ची ने तोड़ा दम, अफसर बोले मलेरिया से हुई मौत

8 days hunger caused death
झारखंड में 8 दिन से भूखी बच्ची ने तोड़ा दम, अफसर बोले मलेरिया से हुई मौत

8 Days Hunger Caused Death To 12 Year Old Girl Officials Refused Hunger Caused Death Hunger In Jharkhand

रांची। झारखंड के सिमडेगा में 11 साल की बच्ची ने 8 दिनों तक भूंखे पेट गुजारने के बाद दम तोड़ दिया। उसे इतनों दिनों तक भूखा सिर्फ इसलिए रहना पड़ा क्योंकि उसके परिवार का मुखिया अपने राशन कार्ड को आधार से लिंक नहीं करवा पाया था। पीड़ित परिवार ने इस घटना का खुलासा करीब 15 दिन बाद किया है। घटना ​सितंबर महीने की 28 तारीख की बताई जा रही है। वहीं स्थानीय अधिकारियों का तर्क है कि बच्ची की मौत की वजह मलेरिया थी।

​एक अखबार द्वारा इस खबर को प्रकाशित किए जाने के बाद झारखंड सरकार के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए, पीड़ित परिवार को 50 रुपए की तत्काल आर्थिक सहायता देते हुए, मामले की जांच करवाने के आदेश जारी कर दिए हैं। उन्होंने अपने अधिकारियों को ऐसी दुखद घटना दोबारा न होने देने की बात कही है।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर इस घटना पर शोक जताते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। सिमडेगा के उपायुक्त को इस मामले में 24 घंटों में जांच कर रिपोर्ट देने को कहा गया है। जिसके लिए उपायुक्त द्वारा तीन सदस्यीय टीम का गठन कर दिया गया है।

अखबार में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबित पीड़ित अपने राशन कार्ड को आधार से लिंक नहीं करवा सका था। जिस वजह से फरवरी से पीडीएस स्कीम के तहत आने वाला राशन मिलना बंद हो गया था।

झारखंड के खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री ने भी राशन कार्ड के मामले में जांच के आदेश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि राशन कार्ड की जांच करवाई जाए​गी कि आखिर कब से पीड़ित परिवार को राशन नहीं मिल पा रहा है।

स्कूल का मिड डे मील भरता था संतोषी का पेट —

मृत बच्ची संतोषी की मां का कहना है कि घर में अनाज का दाना तक नहीं था, लेकिन स्कूल में दोपहर को मिलने वाले खाने से उसकी बेटी को एक समय खाना तो मिल ही जाता था। उन दिनों दुर्गा पूजा के चलते स्कूल की छुट्टी हो गई और उसकी बेटी भूख के कारण तड़प तड़प कर मरती रही। उसके पेट में दर्ज होता था, शरीर कांपते कांपते अकड़ गया और उसकी बेटी ने उसकी गोद में ही दम तोड़ दिया।

रांची। झारखंड के सिमडेगा में 11 साल की बच्ची ने 8 दिनों तक भूंखे पेट गुजारने के बाद दम तोड़ दिया। उसे इतनों दिनों तक भूखा सिर्फ इसलिए रहना पड़ा क्योंकि उसके परिवार का मुखिया अपने राशन कार्ड को आधार से लिंक नहीं करवा पाया था। पीड़ित परिवार ने इस घटना का खुलासा करीब 15 दिन बाद किया है। घटना ​सितंबर महीने की 28 तारीख की बताई जा रही है। वहीं स्थानीय अधिकारियों का तर्क है कि बच्ची की मौत…