82% जनता नोटबंदी के समर्थन में

नई दिल्ली। नोटबंदी को लेकर थोड़ी समस्या तो आ ही रही है लेकिन आम जनता इस फैसले के समर्थन में है। विपक्षी पार्टियां जनता की परेशानियों का फायदा उठाते हुए नोटबंदी को राजनीतिक मुद्दा बना रही है जबकि ज्यादातर लोग इसे सही मान रहे हैं। इनशॉ‌र्ट्स और इप्सॉस के सर्वे के मुताबिक़ 82 फीसद लोग पांच सौ और हजार के नोट वापस लेने का समर्थन कर रहे हैं।



आम जनता का मानना है कि मोदी जी ने कालेधन पर रोक लगाने के लिए ये अहम् कदम उठाया है और हमें इनका समर्थन करना चाहिए। नोटबंदी पर पीएम मोदी की घोषणा के बाद 8 और 9 नवम्बर के यह सर्वे किये गया था। इस सर्वेक्षण में भाग लेने के लिए 2,69,393 लोगों ने एप के जरिये नोटबंदी का समर्थन किया।

पीएम मोदी ने कालेधन जमा करने वाले लोगों के लिए कहा कि ” मैंने ऐसा कभी नहीं देखा था कि गंगा में लोग 500 और 1000 के नोट बहा रहे हैं। वहीं पहले लोग गंगा में सिक्के डालते थे। गंगा में पैसे बहाकर भी आपका पाप धुलने वाला नहीं है।”

आस्था सिंह की रिपोर्ट

नई दिल्ली। नोटबंदी को लेकर थोड़ी समस्या तो आ ही रही है लेकिन आम जनता इस फैसले के समर्थन में है। विपक्षी पार्टियां जनता की परेशानियों का फायदा उठाते हुए नोटबंदी को राजनीतिक मुद्दा बना रही है जबकि ज्यादातर लोग इसे सही मान रहे हैं। इनशॉ‌र्ट्स और इप्सॉस के सर्वे के मुताबिक़ 82 फीसद लोग पांच सौ और हजार के नोट वापस लेने का समर्थन कर रहे हैं। आम जनता का मानना है कि मोदी जी ने कालेधन पर रोक…
Loading...