CAA के विरोध में हिंसा करने वालों से रेलवे वसूलेगा 88 करोड़, अब तक 21 गिरफ्तार

train
CAA के विरोध में हिंसा करने वालों से रेलवे वसूलेगा 88 करोड़, अब तक 21 गिरफ्तार

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने नागरिकता कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शन में रेलवे संपत्ति को क्षति पहुंचाने के आरोप में पश्चिम बंगाल, बिहार और असम से 21 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन पर रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और आगजनी करने का मामला दर्ज हुआ है। RPF के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि करीब 87.99 करोड़ रुपये की संपत्ति के नुकसान की भरपाई तोड़फोड़ की घटनाओं में शामिल लोगों से की जाएगी।

88 Crores To Be Charged By Railways For Violence Against Caa 21 Arrested So Far :

कुल 21 लोगों पर सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ करने का आरोप है। आरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि सीएए प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ करने वालों से 87.99 करोड़ रुपये का हर्जाना वसूला जाएगा।

संसद में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित होने के अगले दिन देश के कई इलाकों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया था और इस दौरान कई जगह हिंसक प्रदर्शन देखने को मिला था। हुड़दंगियों ने कई जगह सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान भी पहुंचाया। अब सरकार ने इनसे वसूली की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कई राज्य सरकारों ने इस बाबत पहले ही आदेश जारी कर दिया है।

बंगाल से ज्यादा गिरफ्तारी

आरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, अब तक 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कुछ लोगों को घटनास्थल पर ही गिरफ्तार किया गया। कुछ लोगों को वीडियो फुटेज के आधार पर पकड़ा गया है। वीडियो की अब भी गहन छानबीन हो रही है, इसलिए अगले कुछ दिनों में और गिरफ्तारियां संभव हैं। ज्यादातर लोगों को बंगाल से गिरफ्तार किया गया है। जो लोग पकड़े गए हैं, उन्हें कॉमर्शियल डिपार्टमेंट की ओर से नोटिस भेजा जाएगा।

     

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने नागरिकता कानून के खिलाफ हुए प्रदर्शन में रेलवे संपत्ति को क्षति पहुंचाने के आरोप में पश्चिम बंगाल, बिहार और असम से 21 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन पर रेलवे संपत्ति को नुकसान पहुंचाने और आगजनी करने का मामला दर्ज हुआ है। RPF के एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि करीब 87.99 करोड़ रुपये की संपत्ति के नुकसान की भरपाई तोड़फोड़ की घटनाओं में शामिल लोगों से की जाएगी। कुल 21 लोगों पर सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ करने का आरोप है। आरपीएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि सीएए प्रदर्शन के दौरान तोड़फोड़ करने वालों से 87.99 करोड़ रुपये का हर्जाना वसूला जाएगा। संसद में नागरिकता संशोधन विधेयक पारित होने के अगले दिन देश के कई इलाकों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया था और इस दौरान कई जगह हिंसक प्रदर्शन देखने को मिला था। हुड़दंगियों ने कई जगह सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान भी पहुंचाया। अब सरकार ने इनसे वसूली की प्रक्रिया शुरू कर दी है। कई राज्य सरकारों ने इस बाबत पहले ही आदेश जारी कर दिया है। बंगाल से ज्यादा गिरफ्तारी आरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा, अब तक 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कुछ लोगों को घटनास्थल पर ही गिरफ्तार किया गया। कुछ लोगों को वीडियो फुटेज के आधार पर पकड़ा गया है। वीडियो की अब भी गहन छानबीन हो रही है, इसलिए अगले कुछ दिनों में और गिरफ्तारियां संभव हैं। ज्यादातर लोगों को बंगाल से गिरफ्तार किया गया है। जो लोग पकड़े गए हैं, उन्हें कॉमर्शियल डिपार्टमेंट की ओर से नोटिस भेजा जाएगा।