जिम्मेदारों की मिलीभगत से काट दिया गया 90 साल पुराना पेड़, वन विभाग मौन!

IMG-20200223-WA0014
जिम्मेदारों की मिलीभगत से काट दिया गया 90 साल पुराना पेड़, वन विभाग मौन

लखनऊ। पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए जहां शासन पेड़ लगाने के लिए अभियान चला रही है, वहीं इसके विपरित राजधानी लखनऊ में 90 वर्षे पुराने पेड़ काट दिए जा रहे हैं। स्थानीय लोगों की शिकायत के बाद भी जिम्मेदारों ने नया बहाना खोज निकाला। सूत्रों की माने तो उनका दावा है कि यह पेड़ जनमानस के लिए खतरा था, जिसके कारण उसको काटने की परमिशन दी गयी है।

90 Year Old Tree Cut In Collusion With Accountants Forest Department Silent :

स्थानीय लोगों का कहना है कि, राजधानी लखनऊ के गाजीपुर क्षेत्र में स्थित पॉलिटेक्निक चौराहे के पास फैमली बाजार है। इसके पीछे 90 वर्ष पुराना पीपल का पेड़ था और इस पेड़ को पुलिस की मौजूदगी में काट दिया गया। स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत आरजीआरएस पोर्टल पर 12 फरवरी को की थी। बावजूद इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। स्थानीय लोगों का आरोप है कि पेड़ काटने के बाद उसकी लकड़ी को भी बेच दिया गया है।

लखनऊ। पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए जहां शासन पेड़ लगाने के लिए अभियान चला रही है, वहीं इसके विपरित राजधानी लखनऊ में 90 वर्षे पुराने पेड़ काट दिए जा रहे हैं। स्थानीय लोगों की शिकायत के बाद भी जिम्मेदारों ने नया बहाना खोज निकाला। सूत्रों की माने तो उनका दावा है कि यह पेड़ जनमानस के लिए खतरा था, जिसके कारण उसको काटने की परमिशन दी गयी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि, राजधानी लखनऊ के गाजीपुर क्षेत्र में स्थित पॉलिटेक्निक चौराहे के पास फैमली बाजार है। इसके पीछे 90 वर्ष पुराना पीपल का पेड़ था और इस पेड़ को पुलिस की मौजूदगी में काट दिया गया। स्थानीय लोगों ने इसकी शिकायत आरजीआरएस पोर्टल पर 12 फरवरी को की थी। बावजूद इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। स्थानीय लोगों का आरोप है कि पेड़ काटने के बाद उसकी लकड़ी को भी बेच दिया गया है।