1. हिन्दी समाचार
  2. सरकार के ‘नेटबंदी’ फैसले से अर्थव्यवस्था को हुआ 92 अरब रुपये का नुकसान

सरकार के ‘नेटबंदी’ फैसले से अर्थव्यवस्था को हुआ 92 अरब रुपये का नुकसान

By रवि तिवारी 
Updated Date

92 Billion Rupees Damage To Economy Due To Governments Netbandi Decision

नई दिल्ली। साल 2019 में देश के कई हिस्सों में शांति बहाल करने के लेकर सरकार की तरफ से कई बार इंटरनेट बंद किया गया। जिसका देश की आर्थिक सेहत को बड़ा नुकसान पहुंचा है। सूत्रों के मुताबिक 2012 से लेकर 2019 तक भारत में कुल 379 बार इंटरनेट बंद किया गया है। केवल 2019 में ही 103 बार इंटरनेट को बंद किया गया है।  

पढ़ें :-  कालना में रोड शो: जेपी नड्डा ने झोंकी ताकत, कहा-  ममता की हालत हारे हुए खिलाड़ी जैसी  

इंटरनेटशटडाउंस डॉट इन के मुताबिक इंटरनेट पर सबसे अधिक प्रतिबंध जम्मू-कश्मीर में 180 बार लगाया गया है। साल 2018 में देशभर में 134 बार इंटरनेट पर प्रतिबंध लगा था। इंटरनेट बंद करने के मामले में जम्मू-कश्मीर के बाद राजस्थान दूसरे नंबर पर है रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में करीब 4196 घंटे इंटरनेट बंद होने से 2019 में देश की अर्थव्यवस्था को करीब 1.3 अरब डॉलर (9224 करोड़ रुपये) का नुकसान हुआ।

रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू-कश्मीर, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, राजस्थान, यूपी और अन्य राज्यों में इंटरनेट पर प्रतिबंध से देश की आर्थिक सेहत पर असर पड़ा। इसके मुताबिक इराक और सूडान के बाद भारत, दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है, जिसे नेटबंदी से सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा। रिपोर्ट में कहा गया है कि देश के कई इलाकों में हुईं घटनाओं से औसतन 84 लाख इंटरनेट उपभोक्ताओं को असुविधा हुई।

इतना ही नहीं रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इंटरनेट बैन से भारत की अर्थव्यवस्था पर नुकसान और भी ज्यादा हो सकता है, क्योंकि इसमें सिर्फ बड़े इलाकों में हुए इंटरनेट बैन का आकलन किया गया है। देश में कम अवधि के लिए इंटरनेट बंद को इसमें शामिल नहीं किया गया है। नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर पूर्वोत्तर में इंटरनेट सेवाओं के बंद होने से लगभग 10.2 करोड़ डॉलर का आर्थिक प्रभाव पड़ा। उत्तर प्रदेश में इंटरनेट प्रतिबंधों के कारण 63 लाख डॉलर का नुकसान हुआ है।  

 

पढ़ें :- गाजियाबाद : जयपुरिया मॉल में लगी भीषण आग, दमकल की गाड़ियां मौक पर पहुंची

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...