दुस्साहस : दहेजलोभियों ने विवहिता को जिंदा जलाया, चिता में आग लगाकर हो गए फरार

woman murder
दुस्साहस : दहेजलोभियों ने विवहिता को जिंदा जलाया, चिता में आग लगाकर हो गए फरार

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद स्थित डिलारी थाना क्षेत्र में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां दहेज लोभियों ने नवविवाहिता को ज़िंदा जला डाला और इसके बाद बिना किसी को बताए ससुराल वाले क्रियाक्रम के लिए शमशान तक पहुंच गए और चिता में आग लगाकर फरार हो गए।

A Man With His Family Killed His Wife At Moradabaad :

सूचना पर पहुंचे मायके वालों ने पुलिस को बताया। पुलिस ने युवती के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने इस मामले में पति समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

हमारे मुरादाबाद संवाददाता रूपक त्यागी के मुताबिक ठाकुरद्वारा कोतवाली क्षेत्र के गांव सुरजन नगर निवासी जितेंद्र सिंह ने अपनी 23 वर्षीय पुत्री डॉली की शादी 28 अप्रैल 2019 को डिलारी थाना क्षेत्र के गांव मोहिउद्दीनपुर निवासी मोनू के साथ की थी। आरोप है कि ससुराल वाले दहेज के लिए डॉली को प्रताड़ित करते थे। शुक्रवार को 11 बजे किसी ने जितेन्द्र को सूचना दी कि ससुराल वालों ने उनकी बेटी की जहर देकर हत्या कर दी है।

सूचना पाकर परिजन बेटी की ससुराल पहुंचे तो वहां कोई नहीं था। वह शमशान में पहुंचे तो देखा डॉली की चिता जल रही थी। शमशान के चारों ओर भी आग जल रही थी। किसी तरह आग बुझा कर उन्होंने चिता से अपनी बेटी के शव को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में जितेन्द्र की तहरीर पर पुलिस ने मृतका के पिता समेत चार लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद स्थित डिलारी थाना क्षेत्र में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां दहेज लोभियों ने नवविवाहिता को ज़िंदा जला डाला और इसके बाद बिना किसी को बताए ससुराल वाले क्रियाक्रम के लिए शमशान तक पहुंच गए और चिता में आग लगाकर फरार हो गए। सूचना पर पहुंचे मायके वालों ने पुलिस को बताया। पुलिस ने युवती के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने इस मामले में पति समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। हमारे मुरादाबाद संवाददाता रूपक त्यागी के मुताबिक ठाकुरद्वारा कोतवाली क्षेत्र के गांव सुरजन नगर निवासी जितेंद्र सिंह ने अपनी 23 वर्षीय पुत्री डॉली की शादी 28 अप्रैल 2019 को डिलारी थाना क्षेत्र के गांव मोहिउद्दीनपुर निवासी मोनू के साथ की थी। आरोप है कि ससुराल वाले दहेज के लिए डॉली को प्रताड़ित करते थे। शुक्रवार को 11 बजे किसी ने जितेन्द्र को सूचना दी कि ससुराल वालों ने उनकी बेटी की जहर देकर हत्या कर दी है। सूचना पाकर परिजन बेटी की ससुराल पहुंचे तो वहां कोई नहीं था। वह शमशान में पहुंचे तो देखा डॉली की चिता जल रही थी। शमशान के चारों ओर भी आग जल रही थी। किसी तरह आग बुझा कर उन्होंने चिता से अपनी बेटी के शव को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में जितेन्द्र की तहरीर पर पुलिस ने मृतका के पिता समेत चार लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।