माइक खराब होने की वजह से मोदी को नहीं मिला बोलने का मौका

वाराणसी। यूपी विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने तबातोड़ रैलीयां कर कई जनसभाओं को संबोधित किया, लेकिन आखिर चरण के प्रचार के दौरान एक दिलचस्प घटना घटी। दरअसल इस चुनाव में पहली बार ऐसा देखने को मिला जब मोदी ने मंच पर शिरकत की लेकिन जनता को संबोधित किए बिना वो चले गए हो। ऐसा उन्होने जान बूझ कर नहीं करा। ऐसा उन्हे इसलिए करना पड़ा क्योकि वहां का माइक खराब हो गया था।


दरअसल, प्रधानमंत्री जब गढ़वाघाट आश्रम पहुंचे तो उनका जोरदार तरीके से स्वागत किया गया। यहां उन्होंने गायों को चारा खिलाया। इस दौरान पीएम का रुद्राक्ष की माला से स्वागत किया गया। प्रधानमंत्री का गढ़वाघाट आश्रम के मंच से संबोधित करने का भी कार्यक्रम था, लेकिन साउंड सिस्टम में शॉर्ट सर्किट होने की वजह से वे बिना कुछ बोले ही वहां से चले गए। यूपी में पूरे प्रचार के दौरान संभवतया यह पहला ऐसा कार्यक्रम था, जहां प्रधानमंत्री किसी मंच पर बिना बोले ही लौट गए हों।



इसके बाद पीएम मोदी दिवंगत प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के घर पहुंचे, जहां उन्होंने उनके परिवार के साथ वक्त बिताया। वहां से प्रधानमंत्री मोदी का काफिला रोहणिया पहुंचा, जहां उन्होंने रैली को संबोधित किया। इस दौरान पीएम ने जमकर अखिलेश सरकार पर तंज कसे।