कार में बैठ एक महिला बच्चे को पिला रही थी दूध, तभी ट्रैफिक पुलिस वाले …

traffic-police_650x400_71510419532
मुंबई: महिला जबरन कार में हुई थी सवार, दूसरे वीडियो ने पलट दी पूरी कहानी

A Woman Was Feeding Baby In The Car Malad Traffic Police Done Car Tow

मुंबई: मुंबई के मालाड में ट्रैफिक पुलिस की असंवेदनशीलता सामने आई है. दरअसल, एक महिला अपने कार में बैठकर अपने बच्चे को दूध पिला रही थी, तभी मालाड में ट्रैफिक पुलिस ने उसकी कार को टो (कार उठाना) कर लिया. हालांकि, इस पूरी घटना का वीडियो भी किसी ने बना लिया. वीडियो वायरल हो ने के बाद मामले में जांज के आदेश दे दिये गये हैं.

बताया जा रहा है कि इस मामले की जांच की कमान खुद ट्रैफिक डीसीपी ने संभाल ली है. मालाड पश्चिम में एस वी रोड पर पहुंच कर उन्होंने खुद इसकी जांच की. वीडियो एस वी रोड प स्थित अदिति होटल के पास का बताया जा रहा है.

ट्रैफिक पुलिस के सह आयुक्त अमितेश कुमार ने बताया कि वीडियो में दिख रहे पुलिस सिपाही को निलंबित कर दिया गया है, क्योंकि पहली नजर में दिख रहा है कि उस महिला और बच्चे की सुरक्षा को खतरना हो सकता है. उन्होंने बताया कि रविवार को डीसीपी जांच रिपोर्ट आने के बाद विभागीय कार्रवाई की जाएगी.

बताया जा रहा है कि वीडियो में जो सिपाही दिख रहा है उसका नामा शशांक राणे है. हालांकि, इस मामले में आरोपी सिपाही राणे का कहना है कि कार को टो करने के वक्त कार मालिक ने अपनी पत्नी को बच्चे के साथ कार में बैठा दिया. बहरहाल, अब सवाल है कि अगर ऐसा हुआ भी था तो सिपाही को चाहिए कि वो वहीं पर कार मालिक के खिलाफ जुर्माना कर देते या फिर मालाड पुलिस को बुला लेते.

मुंबई: मुंबई के मालाड में ट्रैफिक पुलिस की असंवेदनशीलता सामने आई है. दरअसल, एक महिला अपने कार में बैठकर अपने बच्चे को दूध पिला रही थी, तभी मालाड में ट्रैफिक पुलिस ने उसकी कार को टो (कार उठाना) कर लिया. हालांकि, इस पूरी घटना का वीडियो भी किसी ने बना लिया. वीडियो वायरल हो ने के बाद मामले में जांज के आदेश दे दिये गये हैं. बताया जा रहा है कि इस मामले की जांच की कमान खुद ट्रैफिक डीसीपी…