1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Aaj ka Panchang: माघ कृष्ण पक्ष द्वितीया, जाने शुभ-अशुभ समय मुहूर्त और राहुकाल…

Aaj ka Panchang: माघ कृष्ण पक्ष द्वितीया, जाने शुभ-अशुभ समय मुहूर्त और राहुकाल…

माघ कृष्ण पक्ष द्वितीया, राक्षस संवत्सर विक्रम संवत 2079, शक संवत 1944 (शुभकृत् संवत्सर), पौष. द्वितीया. नक्षत्र पुष्य 06:05 AM तक उपरांत आश्लेषा. वैधृति योग 09:42 AM तक, उसके बाद विष्कुम्भ योग.

By आराधना शर्मा 
Updated Date

Aaj ka Panchang: माघ कृष्ण पक्ष द्वितीया, राक्षस संवत्सर विक्रम संवत 2079, शक संवत 1944 (शुभकृत् संवत्सर), पौष. द्वितीया. नक्षत्र पुष्य 06:05 AM तक उपरांत आश्लेषा. वैधृति योग 09:42 AM तक, उसके बाद विष्कुम्भ योग. करण तैतिल 08:23 PM तक, बाद गर.

पढ़ें :- Swapna Shastra : सपने में किसी महिला से बात करना शुभ संकेत माना जाता है, जानिए इसका क्या अर्थ है

जनवरी 08 रविवार को राहु 04:33 PM से 05:53 PM तक है. चन्द्रमा कर्क राशि पर संचार करेगा.

आज का पंचांग 

  • विक्रम संवत – 2079, राक्षस
  • शक सम्वत – 1944, शुभकृत्
  • पूर्णिमांत – माघ
  • अमांत – पौष

तिथि

  • कृष्ण पक्ष द्वितीया [ वृद्धि तिथि ] – Jan 08 07:07 AM – Jan 09 09:39 AM

नक्षत्र

  • पुष्य – Jan 08 03:08 AM – Jan 09 06:05 AM
  • आश्लेषा – Jan 09 06:05 AM – Jan 10 09:01 AM

करण

  • तैतिल – Jan 08 07:07 AM – Jan 08 08:23 PM
  • गर – Jan 08 08:23 PM – Jan 09 09:39 AM

योग

  • वैधृति – Jan 07 08:54 AM – Jan 08 09:42 AM
  • विष्कुम्भ – Jan 08 09:42 AM – Jan 09 10:32 AM

वार

  • रविवार

सूर्य और चंद्रमा का समय

  • सूर्योदय – 7:13 AM
  • सूर्यास्त – 5:52 PM
  • चन्द्रोदय – Jan 08 7:08 PM
  • चन्द्रास्त – Jan 09 8:57 AM

अशुभ काल

  • राहू – 4:33 PM – 5:53 PM
  • यम गण्ड – 12:33 PM – 1:53 PM
  • कुलिक – 3:13 PM – 4:33 PM
  • दुर्मुहूर्त – 04:27 PM – 05:10 PM
  • वर्ज्यम् – 08:27 PM – 10:15 PM

शुभ काल

  • अभिजीत मुहूर्त – 12:12 PM – 12:54 PM
  • अमृत काल – 10:54 PM – 12:42 AM
  • ब्रह्म मुहूर्त – 05:37 AM – 06:25 AM

आनन्दादि योग

  • श्रीवत्स Upto – 06:05 AM
  • वज्र

सूर्या राशि

  • सूर्य धनु राशि पर है

चंद्र राशि

  • चन्द्रमा कर्क राशि पर संचार करेगा (पूरा दिन-रात)

चन्द्र मास

  • अमांत – पौष
  • पूर्णिमांत – माघ
  • शक संवत (राष्ट्रीय कलैण्डर) – पौष 18, 1944
  • वैदिक ऋतु – हेमंत
  • द्रिक ऋतु – शिशिर

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...