1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. AAP का योगी सरकार पर बड़ा वार : प्रयागराज कुंभ में महाघोटाला, मोपेड और मोटर साइकिल से ढ़ोया गया कूड़ा

AAP का योगी सरकार पर बड़ा वार : प्रयागराज कुंभ में महाघोटाला, मोपेड और मोटर साइकिल से ढ़ोया गया कूड़ा

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) यूपी विधानसभा चुनाव (UP assembly elections) को देखते हुए योगी सरकार (Yogi Government)पर लगातार हमलावर बनी हुई है। AAP के उत्तर प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Rajya Sabha MP Sanjay Singh ) ने नियंत्रक एवं लेखा महा परीक्षक सीएजी की रिपोर्ट का हवाला देते बड़ा वार किया है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के खिलाफ साल 2019 में संगम नगरी में  आयोजित प्रयागराज कुंभ (Prayagraj Kumbh) मेले में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) यूपी विधानसभा चुनाव (UP assembly elections) को देखते हुए योगी सरकार (Yogi Government)पर लगातार हमलावर बनी हुई है। AAP के उत्तर प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Rajya Sabha MP Sanjay Singh ) ने नियंत्रक एवं लेखा महा परीक्षक सीएजी की रिपोर्ट का हवाला देते बड़ा वार किया है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के खिलाफ साल 2019 में संगम नगरी में  आयोजित प्रयागराज कुंभ (Prayagraj Kumbh) मेले में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है।

पढ़ें :- योगी का सख्त फरमान : सरकार कर्मचारियों ये मांगा ये ब्यौरा, नहीं दिया तो होगी विभागीय कार्रवाई

संजय सिंह (Sanjay Singh ) लगातार भ्रष्टाचार के मामलों को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Rajya Sabha MP Sanjay Singh )  ने कहा कि CAG रिपोर्ट ने कुम्भ के भ्रष्टाचार को उजागर किया धर्म के नाम पर धंधा करने वालों पर कोई कार्यवाही होगी या रिपोर्ट ठण्डे बस्ते में डाल दी जायेगी।

कुंभ मेले में योगी सरकार पर लगा भ्रष्टाचार के आरोप

संजय सिंह ने सीएजी की रिपोर्ट को ट्वीट कर लिखा है कि कुंभ मेले के आयोजन के लिए जो 2700 करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे, उनमें भारी अनियमितता बरती गई है। सीएजी के ऑडिट में यह पकड़ा गया है कि कुंभ मेले के आयोजन के लिए 32 ट्रैक्टर खरीदे गए, वे सभी कार, मोपेड और स्कूटर के नंबर पर हैं।

पढ़ें :- Lakhimpur Kheri Violence : केशव प्रसाद मौर्य बोले- पद या दबाव नहीं आएगा काम, दोषियों को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शा जाएगा

संजय सिंह ने कहा कि यह तो एक छोटा सा उदाहरण है, लेकिन आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि कुंभ के मेले के नाम पर कितना बड़ा भ्रष्टाचार हुआ है। चारा घोटाले से बड़ा है कुंभ में महाघोटाला (Big scam in Kumbh) हुआ है। एक ट्रैक्टर कूड़ा ढोने का खर्च 33.50 लाख रुपये हैं, जबकि मोपेड और मोटर साइकिल से हुई कूड़ा ढुलाई।

संजय सिंह ने सीएजी रिपोर्ट को बनाया आधार

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रभु श्री राम का मंदिर हो, चाहे प्रयागराज का कुंभ हो, बीजेपी भ्रष्टाचार का कोई भी मौका नहीं छोड़ रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बीजेपी से कहना चाहता हूं कि कम से कम धर्म को तो बख्श दो। कभी प्रभु श्री राम के मंदिर के नाम पर चंदा चोरी करते हो तो कभी प्रयागराज के कुंभ मेले के आयोजन के नाम पर भ्रष्टाचार करते हो। उत्तर प्रदेश की जनता देख रही है और समय आने पर जवाब देगी।

आम आदमी पार्टी ने कुंभ मेले पर लेखा परीक्षा प्रतिवेदन की रिपोर्ट के आधार पर कहा कि नगर विकास विभाग ने कुंभ मेला अधिकारी को 2,743.60 करोड़ रुपये स्वीकृत किया था, जिसके मुकाबले जुलाई, 2019 तक 2,112 करोड़ रुपये खर्च किए गए. इस दौरान उन्होंने रिपोर्ट के हवाले से कई योगी सरकार पर सवाल खड़े हुए हैं। इसमें उन्होंने कूढ़ा उठाने के लिए ट्रैक्टरों के पंजीकरण सहित तमाम मदों में खर्च किए गए पैसों को रखा है।

योगी के रामराज में भ्रष्टाचार का कुंभ : सूर्य प्रताप सिंह

पढ़ें :- Lakhimpur Kheri violence case : पुलिस ने आरोपी लवकुश और आशीष को किया गिरफ्तार, मुख्य आरोपी को भेजा समन

इनके अलावा उत्तर प्रदेश के सेवानिवृत्त आईएएस आधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने ट्वीट कर कहा कि योगी के रामराज में भ्रष्टाचार का कुंभ। उन्होंने कहा कि मैं नहीं कह रहा,ये CAG की रिपोर्ट कह रही है। उन्होंने कहा कि सीएजी रिपोर्ट में मोपेड,मोटरसाइकिलों से टनों मिट्टी ढोई गई,करोड़ों के वारे न्यारे हुए। उन्होंने कहा कि योगी सरकार में धर्म व अध्यात्म के नाम पर घोटाले ही घोटाले,कभी कुंभ के तो कभी राममंदिर के नाम पर। सेवानिवृत्त आईएएस आधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने कहा कि हिम्मत है तो CBI से जांच कराओ।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...