आप में ही रहेंगे कुमार विश्वास, आरोप लगाने वाले अमानतुल्लाह पार्टी से निलंबित

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) के संस्थापकों में से एक कुमार विश्वास पार्टी में बने रहेंगे। कुमार विश्वास ने पार्टी में रहने पर सहमति जताई है, जबकि उन पर ‘भाजपा-आरएसएस का एजेंट’ होने का आरोप लगाने वाले विधायक अमानतुल्लाह खान को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है।

ओखला से पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने विश्वास पर गंभीर आरोप लगाए थे, जिसके बाद विश्वास ने पार्टी छोड़ने के संकेत दिए थे। फिर, उन्हें मनाने की कवायद चली जिसके बाद कुमार विश्वास बुधवार को पार्टी की राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) की बैठक में शामिल होने के लिए अरविंद केजरीवाल के आवास पहुंचे।



मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मंगलवार रात विश्वास को मनाने उनके गाजियाबाद स्थित घर पहुंचे थे। कुमार विश्वास को बुधवार को पार्टी का राजस्थान का प्रभारी नियुक्त किया गया है। राजस्थान में अगले साल चुनाव होने वाले हैं।दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पीएसी बैठक के बाद संवाददाताओं को बताया, “पीएसी ने अमानतुल्लाहखान को पार्टी से निलंबित करने का फैसला किया है।”

अमानतुल्लाह खान ने कुमार विश्वास पर आरोप लगाया था कि वह पार्टी को तोड़ने की कोशिश रहे हैं और केजरीवाल के खिलाफ साजिश कर रहे हैं। पीएसी बैठक के बाद कुमार ने सिसोदिया के साथ मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि वह खुश हैं कि पार्टी के सदस्यों के बीच संवाद फिर से शुरु हुआ है। आप ने तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है जो यह पता लगाएगी कि अमानतुल्लाह ने आखिर कुमार विश्वास पर इस तरह के संगीन आरोप क्यों लगाए? इस समिति में पंकज गुप्ता, अतिशी मारलेना और आशुतोष हैं।




सिसोदिया ने कहा कि कुमार विश्वास को राजस्थान में पार्टी को मजबूत करने का काम दिया गया है और पार्टी कुमार के नेतृत्व में राजस्थान में चुनाव लड़ेगी।