‘आप’ कार्यालय के बाहर लगे ‘कुमार’ विरोधी पोस्टर, लिखा- ‘भाजपा का यार है, कवि नहीं गद्दार है’

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी में मचा घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है, समय के साथ यहां आँख-मिचौली का यह खेल जारी है पार्टी के नेता ही एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते दिख रहे है हालांकि अभी तक यह सिलसिला सोशल मीडिया पर ही देखने को मिल रहा था लेकिन अब यह कलह खुलेआम देखने को मिल रही है। इस घमसान में नया मोड़ शनिवार सुबह देखने को मिला जब राजधानी स्थित पार्टी कार्यालय के बाहर एक कुमार विश्वास विरोधी पोस्टर चस्पा मिला जिसमे साफ तौर से लिखा हुआ है, “भाजपा का यार है कवि नहीं गद्दार है, छिप-छिप कर हमला करता है वार पीठ पर करता है ऐसे धोखेबाज़ों को बाहर करो -बाहर करो। पोस्टर में लिखी ये लाईने साफ तौर पर मनीष सिसोदिया के करीबी नेता और कवि कुमार विश्वास के ऊपर लिखी गयी है।




इस पोस्‍टर में एक बार कुमार को भाजपा का यार बताया गया है। इतना ही नहीं उन्‍हें गद्दार और धोखेबाज तक कहा गया है। ऐसा प्रतीत होता है कि यह पोस्‍टर दिलीप पांडेय के किसी समर्थक द्वारा निकाला गया है। इस पोस्‍टर के अंतिम में दिलीप को इस बात के लिए धन्‍यवाद दिया गया है कि उन्‍होंने कुमार की कलई खोली। इस पोस्‍टर से एक बात तो तय है कि आप के अंदर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। केजरीवाल के समक्ष अब दोहरी चुनौती है। अब दिल्‍ली सरकार के साथ उन्‍हें पार्टी के अंदर चल रहे धमासान पर भी लगाम लगाने की बड़ी चुनौती होगी।

{ यह भी पढ़ें:- जब प्यार चढ़ा परवान तब हुआ मध्य प्रदेश में कांग्रेस -भाजपा का गठबंधन }




पोस्टर की खास बात यह है कि इसमें पार्टी नेता दिलीप पांडेय भी दिखाई दे रहे हैं। पोस्टर में लिखा है कि कुमार विश्वास का काला सच बताने के लिए भाई दिलीप पांडेय का आभार… हालांकि इस पोस्टर को किसने जारी किया है इसकी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं अभी तक नहीं मिल पायी है।

{ यह भी पढ़ें:- देश की जनता मोदी सरकार को सिखाएगी 2019 में सबक: राहुल गांधी }