1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. लखनऊ विश्वविद्यालय में प्राक्टर आफिस के बाहर एबीवीपी का हंगामा, जानें क्या है मामला?

लखनऊ विश्वविद्यालय में प्राक्टर आफिस के बाहर एबीवीपी का हंगामा, जानें क्या है मामला?

लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) के प्रोफेसर रविकांत को सुरक्षा के लिए प्राक्टर आफिस (Proctor's office) में बैठाया गया। प्राक्टर आफिस के बाहर दर्जनों अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) कार्यकर्ता के कार्यकर्ता हंगामा कर रहे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) के प्रोफेसर रविकांत (Professor Ravikant) को सुरक्षा के लिए प्राक्टर आफिस (Proctor office) में बैठाया गया। प्राक्टर आफिस के बाहर दर्जनों अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) कार्यकर्ता के कार्यकर्ता हंगामा कर रहे हैं।

पढ़ें :- लखनऊ विश्वविद्यालय की बड़ी उपलब्धि, प्रो. ध्रुव सेन सिंह राष्ट्रीय भूविज्ञान पुरस्कार से होंगे सम्मानित

 रविकांत के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने को लेकर सारे प्रोफ़ेसर हुए लामबंद

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में भूगर्भ विज्ञान विभाग के प्रोफेसर विभूति राय ने रविकांत पर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है। प्रोफेसर विभूति राय ने रविकांत का वीडियो का वायरल करते हुए अब लखनऊ विश्वविद्यालय  के प्रोफेसर उदय प्रताप, प्रोफेसर रामेश्वर बलि, प्रोफेसर सुधीर मेहरोत्रा, एन.के पांडेय ने शर्मनाक बयान पर प्रोफेसर रविकांत (Professor Ravikant) के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। प्रोफेसर रविकांत के खिलाफ एफ आई आर कराई गई।

प्रोफेसर रविकांत के खिलाफ एफ आई आर दर्ज

पढ़ें :- लखनऊ विश्वविद्यालय में अग्निपथ योजना का NSUI ने किया विरोध,लगाया ये आरोप

पढ़ें :- भीम आर्मी के मुखिया चन्द्रशेखर ने लखनऊ विश्वविद्यालय के प्रोफेसर रविकांत चंदन से की मुलाकात,जानें इसके सियासी मायने

 प्रोफेसर रविकांत ने साधु संतों और काशी विश्वनाथ मंदिर पर अशोभनीय टिप्पणी की

लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University) के प्रोफेसर रविकांत (Professor Ravikant) की बर्खास्तगी पर छात्र ​अड़े हुए हैं। प्रोफेसर पर आरोप है कि उन्होंने एक डिबेट में साधु संतों और काशी विश्वनाथ मंदिर पर अशोभनीय टिप्पणी की है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) कार्यकर्ता के कार्यकर्ताओं ने कहा कि जब तक उनकी बर्खास्तगी नहीं होगी। तब तक हम अनशन पर बैठें रहेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...