1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. शिवपाल सिंह यादव के रथ पर हुए सवार आचार्य प्रमोद कृष्णम, कांग्रेस को यूपी में बड़ा झटका?

शिवपाल सिंह यादव के रथ पर हुए सवार आचार्य प्रमोद कृष्णम, कांग्रेस को यूपी में बड़ा झटका?

कांग्रेस पार्टी से लखनऊ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुके आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam)  ने मंगलवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव गदा भेंट किया। शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) के साथ रथ में सवार होने के बाद आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam)  कांग्रेस में हैं भी या पार्टी छोड़ दी, ये चर्चा भी तेज हो गई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मथुरा। कांग्रेस पार्टी से लखनऊ लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुके आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam)  ने मंगलवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव गदा भेंट किया। शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) के साथ रथ में सवार होने के बाद आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam)  कांग्रेस में हैं भी या पार्टी छोड़ दी, ये चर्चा भी तेज हो गई है।

पढ़ें :- Murder: मॉर्निंग वॉक निकले अखिलेश का बदमाशों ने पूछा नाम, फिर गोली मारकर कर दी हत्या

इसके बाद इस कयास पर विराम लगाते हुए तुरंत ट्वीट कर कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam) ने ये साफ किया कि न तो शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  कांग्रेस में शामिल हुए हैं और न ही वे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया में। उन्होंने कहा कि राष्ट्र और लोकतंत्र को बचाने के लिए ये बड़ा कदम है। शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  का समर्थन करने और उन्हें शुभकामनाएं देने यहां आया हूं। इस यात्रा से नए रास्ते प्रशस्त होंगे। उन्होंने साथ ही ये भी जोड़ा कि राजनीति संभावनाओं का खेल है। कल क्या होगा ये मैं भी अभी नहीं कह सकता?

पढ़ें :- अखिलेश यादव पर बीजेपी का तंज, कहा-रामनवमी और महानवमी में क्या अंतर है, वो 'राम' और 'परशुराम' की बात करते हैं

आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam) ने कहा कि शिवपाल सिंह यादव एक ‘साधु’ प्रवृति के क़द्दावर नेता हैं और उनसे मेरे व्यक्तिगत और पारिवारिक रिश्ते जगज़ाहिर हैं। उनकी यात्रा की सफलता के लिये शुभ कामना और आशीर्वाद देने के ‘राजनैतिक’ अर्थ निकालना हवा में तीर मारने जैसा है।

आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam) ने इसके बाद दूसरा ट्वीट करते हुए लिखा कि राजनीति में ‘झटका’ बड़ा ज़रूरी है,लेकिन इस बार झटका ‘कांग्रेस ‘ को नहीं ‘भाजपा’ को लगेगा।

पढ़ें :- झूठे वादे और गलत निर्णय की वजह से पूरा देश संकट के दौर से गुजर रहा है: Shivpal Singh Yadav

इस धर्म यात्रा से यूपी में अधर्म की सरकार का होगा पतन 

आचार्य प्रमोद कृष्णम (Acharya Pramod Krishnam)ने योगी सरकार पर निशाना साधे हुए कहा कि ये अधर्म के रास्ते पर चल चुकी है। इसको उखाड़ फेंकने के लिए शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  ने एक धर्म यात्रा शुरू की है। उन्होंने कहा कि मेरे शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) से बहुत निकट संबंध हैं और वे कल्कि धाम से भी जुड़े हुए हैं। उनकी इस यात्रा की सफलता के लिए उनको शुभकामनाएं देने आया हूं। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने ये भी कहा कि मुझे विश्वास है कि शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) की इस धर्म यात्रा से यूपी में अधर्म की सरकार का पतन होगा।

उन्होंने कहा कि इस समय कांग्रेस और देश के सामने सबसे बड़ा सवाल है कि कैसे लोकतंत्र को बचाया जाए। जिस तरीके से यूपी में सरकार चल रही है उसने लोकतंत्र को कुचल दिया है। आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि प्रियंका गांधी का लक्ष्य इस देश और प्रदेश से बीजेपी की सरकार को उखाड़ फेंकना है। ऐसे में शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) एक बड़ा फैसला ले कर के एक सामाजिक जागृति के लिए यात्रा कर रहे हैं तो सारी शक्तियों का यह फर्ज बनता है कि बीजेपी से जो भी जहां लड़े, उसका समर्थन किया जाए।

मायावती बीजेपी का खिलौना : आचार्य प्रमोद कृष्णम

आचार्य प्रमोद कृष्णम(Acharya Pramod Krishnam)  ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को लेकर कहा कि उन्हें जो कदम उठाने चाहिए थे और जिस तरीके से सड़क पर नजर आना चाहिए था, पिछले डेढ़-दो साल में उनसे चूक हुई है। जनता बड़ी आशा भरी नजरों से अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav)  की ओर देख रही थी लेकिन वे दायित्व नहीं निभा पाए हैं। उनके कंधों पर तमाम सेक्युलर पार्टियों को साथ लेकर चलने का बोझ भी था, लेकिन वे ये भी नहीं कर पाए। मायावती को बीजेपी का खिलौना बताते हुए आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि जमीन पर या तो प्रियंका गांधी नजर आ रही हैं या शिवपाल सिंह यादव। जैसे-जैसे चुनाव का समय नजदीक आएगा, एक बड़ा प्लेटफार्म तैयार होगा और हम हर हाल में यूपी को बीजेपी की जुल्मी सरकार से मुक्त कराएंगे।

पढ़ें :- मिशन-2022 को साधने के लिए कानपुर-बुंदेलखंड में 'समाजवादी विजय रथ यात्रा' लेकर निकले अखिलेश
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...