एक और बाबा हुआ बेनकाब, युवती को मंत्र का झांसा देकर कर दिया रेप

सूरत। आस्था के नाम पर दुकान चला रहे बाबाओं का घिनौना चेहरा सामने आने का सिलसिला टूटने का नाम नहीं ले रहा। हाल के दिनों में एक के बाद एक कई बाबाओं का असली चेहरा बेनकाब हो चुका है। इसी कड़ी में एक नया नाम जुड़ गया है जैन मुनि आचार्य शांतिसागर महाराज का। इसे सूरत में एक युवती से दुष्कर्म के आरोप में शनिवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गुजरात की 19 वर्षीय युवती ने जैन मुनि पर बलात्कार का आरोप लगाया था।

मंत्र जाप का दिया था झांसा
19 वर्षीय शिकायतकर्ता छात्रा के अनुसार, भगवान महावीर के नानपुरा स्थित दिगम्बर जैन मंदिर में आशीर्वाद लेने गई। जहां, इस संत ने उसे मंत्र जाप का कहकर रात को मंदिर में रूकने का कहा। लड़की ने बताया कि महाराज के कहने पर वो मंदिर में के बाजू में बने कमरे में रुक गई। उसके बाद संत कमरे में आया और उसके साथ रेप किया।

{ यह भी पढ़ें:- मासूम का दर्द: आंटी चॉकलेट देकर भेज देती थीं, कमरे में अंकल लोग करते थे गंदे काम }

युवती ने कमिश्नर को लिखा था पत्र
पीड़िता मूल रूप से मध्य प्रदेश की निवासी है जो गुजरात के वडोदरा में रहती है। उसने सूरत के पुलिस कमिश्नर को पत्र लिख कर आरोप लगाया कि जैन मुनि ने सूरत में उससे दुष्कर्म किया था। युवती का आरोप है कि 1 अक्टूबर को मंत्रजाप के लिए वह आचार्य शांतिसागर महाराज के पास गई थी जहां उन्होंने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। इस संबंध में शुक्रवार को अठवा थाने में मामला दर्ज किया गया था। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि न्यू सिविल हॉस्पिटल में मेडिकल जांच होने के बाद युवती के रेप होने की पुष्टि हुई है। स्थानीय आठवा पुलिस ने मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है और आरोपी साधु को गिरफ्तार कर लिया है।

जैन समुदाय ने किया विरोध प्रदर्शन
अठवा पुलिस थाने में दर्ज शिकायत के बाद दिगंबर जैन समाज के लोग पुलिस कमिश्नर के कार्यालय आकर कमिश्नर से मुलाकात की। सभी ने मिलकर यह मांग की है कि इससे पूरा जैन समाज आहत हुआ है। इस मामले की न्यायिक जांच की जाए।

{ यह भी पढ़ें:- होटलों में चल रहा था ये गंदा खेल, पुलिस देख बिना कपड़ों के भागे जोड़ें }

Loading...