OLX पर डला Statue Of Unity को बेचने का विज्ञापन, मामला दर्ज

Modi 6-1572454593

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना का कहर बरपा हुआ है। इसका संकट दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है ऐसे में कई लोगों की जान भी इस वायरस के कारण जा चुकी है। लेकिन उसके बावजूद बह लोग समझने को तैयार नहीं है। इस वायरस से निपटने के लिए पीएम मोदी ने देशभर में 21 दिन का लॉक डाउन लागू किया हुआ है। इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है।

Advertisement To Sell Statue Of Unity On Olx Case Filed :

दरअसल, ये खबर स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से जुड़ी हुई है। जानकारी के मुताबिक, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने का एक विज्ञापन OLX पर चलने के कारण पूरे सरकारी महकमे में हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है, ऑनलाइन वेबसाइट ओएलएक्स पर दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने का विज्ञापन निकला है जिसमें उसकी कीमत 30 हजार करोड़ रुपए रखी गई है।

इस विज्ञापन में लिखा गया है कि गुजरात सरकार को कोरोना वायरस के हालत से लड़ने के लिए अस्पताल और मेडिकल उपकरणों के लिए पैसों की जरूरत है। जिसकी वजह से इसे बेचा जा रहा है। जबकरि के मुताबिक, इस मामले के बाद स्टैच्यू ऑफ यूनिटी प्रशासन भी हरकत में आ गया और इस मामले को लेकर केवड़िया कॉलोनी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई गई।

आपको बता दे, प्रशासन ने OLX कंपनी और एक अनजान शख्स के नाम केस दर्ज करवाया है। इस मामले को लेकर डिप्टी कलेक्टर नीलेश दुबे का कहना है कि ओएलएक्स कंपनी में बातकर इस विज्ञापन को हटवा दिया है। इस तरह का विज्ञापन किसने वेबसाइट पर दिया था, इस बात की जानकारी निकाली जा रही है।

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना का कहर बरपा हुआ है। इसका संकट दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है ऐसे में कई लोगों की जान भी इस वायरस के कारण जा चुकी है। लेकिन उसके बावजूद बह लोग समझने को तैयार नहीं है। इस वायरस से निपटने के लिए पीएम मोदी ने देशभर में 21 दिन का लॉक डाउन लागू किया हुआ है। इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल, ये खबर स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से जुड़ी हुई है। जानकारी के मुताबिक, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने का एक विज्ञापन OLX पर चलने के कारण पूरे सरकारी महकमे में हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है, ऑनलाइन वेबसाइट ओएलएक्स पर दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को बेचने का विज्ञापन निकला है जिसमें उसकी कीमत 30 हजार करोड़ रुपए रखी गई है। इस विज्ञापन में लिखा गया है कि गुजरात सरकार को कोरोना वायरस के हालत से लड़ने के लिए अस्पताल और मेडिकल उपकरणों के लिए पैसों की जरूरत है। जिसकी वजह से इसे बेचा जा रहा है। जबकरि के मुताबिक, इस मामले के बाद स्टैच्यू ऑफ यूनिटी प्रशासन भी हरकत में आ गया और इस मामले को लेकर केवड़िया कॉलोनी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई गई। आपको बता दे, प्रशासन ने OLX कंपनी और एक अनजान शख्स के नाम केस दर्ज करवाया है। इस मामले को लेकर डिप्टी कलेक्टर नीलेश दुबे का कहना है कि ओएलएक्स कंपनी में बातकर इस विज्ञापन को हटवा दिया है। इस तरह का विज्ञापन किसने वेबसाइट पर दिया था, इस बात की जानकारी निकाली जा रही है।