बेटी की हत्या से आहत एक मां की दहेजलोभियों को सलाह, रख नहीं सकते तो भेज दो मायके

murder
बेटी की हत्या से आहत एक मां की दहेजलोभियों को सलाह, रख नहीं सकते तो भेज दो मायके

मुरादाबाद। मुरादाबाद के रहने वाले जिला पंचायत सदस्य ने एक युवती से प्रेम का नाटक रचा फिर दो साल पहले उससे शादी भी कर ली और बाद में दहेज की मांग करते हुए उसे प्रताड़ित करने लगा। जब पीड़िता अपने मायके से दहेज न ला सकी तो उसे मौत के घाट उतारकर फरार हो गया। वहीं म्रतका की मां ने बेटी की हत्या से आहत होकर समाज के सभी दहेजलोभियों से कहा ‘अगर बेटियों को रख नही सकते तो उन्हे मायके भेज दो, उनकी जान मत लो’।

Advice To The Dowry Seekers Of A Mother Hurt By Daughters Murder :

जानकारी के मुताबिक हल्दवानी की रहने वाली निधि ने दो साल पहले मुरादाबाद के बनियाठेर थाना क्षेत्र मे रहने वाले विशाल नाम के युवक से प्रेम विवाह किया था। निधि की मां साधना ने बताया कि शादी के कुछ ही दिनो बाद से विशाल उसे प्रताड़ित करने लगा था लेकिन निधि मायके में कुछ न बताकर जुर्म सहती रही। लेकिन हाल ही मे उसने मायके में मारपीट व दहेज मांगने की बात बताई थी। 2, 3 दिनो से उसका कोई फोन भी नही आया था, कल अचानक सूचना आयी कि निधि ने जहर खा लिया।

साधना का कहना है कि जब वह बेटी की ससुराल पंहुची तो निधि की मौत हो चुकी थी, उसको ये लोग अस्पताल तक नही ले गये थे और बोले निधि ने चूहे मारने की दवा खा लिया है। साधना को शक तो पहले ही हो गया था लेकिन जब पोस्टमार्टम के बाद ये पता चला कि निधि को सल्फास खिलाया गया तो उनका शक यकीन मे बदल गया। उन्होने पुलिस से शिकायत दर्ज करवायी लेकिन आरोपी के घर पर ताला बन्द है और आरोपी जेवर लेकर भी फरार हो गया है।

मुरादाबाद। मुरादाबाद के रहने वाले जिला पंचायत सदस्य ने एक युवती से प्रेम का नाटक रचा फिर दो साल पहले उससे शादी भी कर ली और बाद में दहेज की मांग करते हुए उसे प्रताड़ित करने लगा। जब पीड़िता अपने मायके से दहेज न ला सकी तो उसे मौत के घाट उतारकर फरार हो गया। वहीं म्रतका की मां ने बेटी की हत्या से आहत होकर समाज के सभी दहेजलोभियों से कहा 'अगर बेटियों को रख नही सकते तो उन्हे मायके भेज दो, उनकी जान मत लो'। जानकारी के मुताबिक हल्दवानी की रहने वाली निधि ने दो साल पहले मुरादाबाद के बनियाठेर थाना क्षेत्र मे रहने वाले विशाल नाम के युवक से प्रेम विवाह किया था। निधि की मां साधना ने बताया कि शादी के कुछ ही दिनो बाद से विशाल उसे प्रताड़ित करने लगा था लेकिन निधि मायके में कुछ न बताकर जुर्म सहती रही। लेकिन हाल ही मे उसने मायके में मारपीट व दहेज मांगने की बात बताई थी। 2, 3 दिनो से उसका कोई फोन भी नही आया था, कल अचानक सूचना आयी कि निधि ने जहर खा लिया। साधना का कहना है कि जब वह बेटी की ससुराल पंहुची तो निधि की मौत हो चुकी थी, उसको ये लोग अस्पताल तक नही ले गये थे और बोले निधि ने चूहे मारने की दवा खा लिया है। साधना को शक तो पहले ही हो गया था लेकिन जब पोस्टमार्टम के बाद ये पता चला कि निधि को सल्फास खिलाया गया तो उनका शक यकीन मे बदल गया। उन्होने पुलिस से शिकायत दर्ज करवायी लेकिन आरोपी के घर पर ताला बन्द है और आरोपी जेवर लेकर भी फरार हो गया है।