मास्क लगाने की सलाह देना शख्स को पड़ा मंहगा, हुई मारपीट, नही मिला इंसाफ तो लगा ली फांसी

sucide

रामपुर: यूपी के रामपुर में मास्क लगाने की सलाह देना एक शख्‍स को महंगा पड़ा। मिली जानकारी के अनुसार, मेडीकल स्वामी सुभाष सक्सेना ने मास्‍क लगाने की सलाह दी तो दबंगों ने उसका जमकर पीटा। जिसके बाद इंसाफ नहीं मिलने के कारण उसने अपनी वीडियो बनाकर और सुसाइड नोट लिखकर खुद को फंखे से लटका कर फांसी लगा ली।

Advising People To Apply Masks Cost Dear Was Beaten Up Not Found Justice Hanged :

हर बार की तरह घटना होने के बाद इस मामले में भी पुलिस जागी और मौके पर पहुंची। मृतक सुभाष सक्सैना द्वारा बनाई गई सुसाइड से पहले की वीडियो में आरोप है कि जब वो दही लेकर अपने घर जा रहा था, तभी कुछ लोग उसके घर के पास बिना मास्क लगाए बैठे थे और सिगरेट पी रहे थे। सुभाष ने उन्हें मास्क लगाने की सलाह दी तो उन्होंने उसकी पिटाई कर दी और उसको स्कूटी सहित नाले में फेंक दिया, जिससे उसको काफ़ी चोटें लगीं।

सुभाष ने इस बात की शिकायत पुलिस से भी की, लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी। इसके बाद आरोपी उसको ही धमकाने लगे और उसका टॉर्चर कर रहे थे, जिससे उसकी हालत काफी ख़राब हो गई। इस बात से आहत आकर उसने अपनी जीवन लीला समाप्त करने का फैसला लिया है। उसने वीडियो में बताया है कि उसने डीएम रामपुर को भी फोन किया, परन्तु उसकी नहीं सुनी गई। इंसाफ नहीं मिलने पर उसने आत्महत्या कर ली है। बरहाल इस मामले में सिविल लाइन पुलिस जांच में जुट गई है और दोषियों के ख़िलाफ़ कारवाही की बात भी कह रही है।

रामपुर: यूपी के रामपुर में मास्क लगाने की सलाह देना एक शख्‍स को महंगा पड़ा। मिली जानकारी के अनुसार, मेडीकल स्वामी सुभाष सक्सेना ने मास्‍क लगाने की सलाह दी तो दबंगों ने उसका जमकर पीटा। जिसके बाद इंसाफ नहीं मिलने के कारण उसने अपनी वीडियो बनाकर और सुसाइड नोट लिखकर खुद को फंखे से लटका कर फांसी लगा ली। हर बार की तरह घटना होने के बाद इस मामले में भी पुलिस जागी और मौके पर पहुंची। मृतक सुभाष सक्सैना द्वारा बनाई गई सुसाइड से पहले की वीडियो में आरोप है कि जब वो दही लेकर अपने घर जा रहा था, तभी कुछ लोग उसके घर के पास बिना मास्क लगाए बैठे थे और सिगरेट पी रहे थे। सुभाष ने उन्हें मास्क लगाने की सलाह दी तो उन्होंने उसकी पिटाई कर दी और उसको स्कूटी सहित नाले में फेंक दिया, जिससे उसको काफ़ी चोटें लगीं। सुभाष ने इस बात की शिकायत पुलिस से भी की, लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी। इसके बाद आरोपी उसको ही धमकाने लगे और उसका टॉर्चर कर रहे थे, जिससे उसकी हालत काफी ख़राब हो गई। इस बात से आहत आकर उसने अपनी जीवन लीला समाप्त करने का फैसला लिया है। उसने वीडियो में बताया है कि उसने डीएम रामपुर को भी फोन किया, परन्तु उसकी नहीं सुनी गई। इंसाफ नहीं मिलने पर उसने आत्महत्या कर ली है। बरहाल इस मामले में सिविल लाइन पुलिस जांच में जुट गई है और दोषियों के ख़िलाफ़ कारवाही की बात भी कह रही है।