1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Afghanistan: अफगानिस्तान में ‘तालिबान सरकार’ बनाने की हो रही तैयारियां, गेस्ट लिस्ट तैयार

Afghanistan: अफगानिस्तान में ‘तालिबान सरकार’ बनाने की हो रही तैयारियां, गेस्ट लिस्ट तैयार

अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जे के बाद तालिबान (Taliban) ने वहां नई सरकार गठन (supreme leader) की तैयारियां तेज कर दी है। खबरों के अनुसार, अगले तीन दिन के अंदर इसका ऐलान कर दिया जाएगा। तालिबान सरकार बनाने के लिए ईरान का फॉर्मूला अपनाएगा।

By अनूप कुमार 
Updated Date

काबुल: अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जे के बाद तालिबान (Taliban) ने वहां नई सरकार गठन (supreme leader) की तैयारियां तेज कर दी है। खबरों के अनुसार, अगले तीन दिन के अंदर इसका ऐलान कर दिया जाएगा। तालिबान सरकार बनाने के लिए ईरान का फॉर्मूला अपनाएगा। यहां एक सुप्रीम लीडर (supreme leader) होगा और उसके अंतर्गत प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति काम करेगा। इससे पहले तालिबान ने ऐलान किया था कि अफगानिस्तान से सभी विदेशी सैनिकों की वापसी के बाद युद्धग्रस्त मुल्क में सरकार बनाने के लिए ऐलान किया जाएगा। सोमवार देर रात अफगानिस्तान से अमेरिका की आखिरी सैनिकों की टुकड़ी रवाना हुई और इसी के साथ काबुल एयरपोर्ट (Kabul Airport) पर तालिबान का नियंत्रण हो गया।

पढ़ें :- Yogi cabinet expansion : योगी मंत्रिमंडल के आखिरी विस्तार में इनको बनाया गया मंत्री
Jai Ho India App Panchang

इस बीच काबुल (Kabul) स्थित राष्ट्रपति भवन में भव्य समारोह के लिए तैयारियां जोरो-शोरों पर हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, तालिबान की नई सरकार के गठन के मौके पर भारत समेत कई देशों के प्रमुखों को न्योता भेजा जाने वाला है। कतर में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के डिप्टी प्रमुख शेर अब्बास स्तानिकजई ने इस बात की पुष्टि की कि नई सरकार में सभी अफगान जातीय समूहों का प्रतिनिधित्व होगा। उन्होंने कहा, ‘जिन लोगों ने 2001 में अमेरिकी कब्जे के बाद कैबिनेट में सेवाएं दीं, उन्हें नई कैबिनेट में जगह नहीं दी जाएगी।

खबरों के अनुसार, नई सरकार के पूरे स्वरूप की जानकारी दिए बिना तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के डिप्टी प्रमुख शेर अब्बास स्तानिकजई ने कहा कि नई सरकार में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होने वाली है। उन्होंने इस बात को स्पष्ट नहीं किया कि क्या महिलाओं को मंत्री पद जैसे उच्च स्थानों पर जगह दी जाएगी।तालिबानी नेता ने अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से कहा कि वे नई अफगान सरकार को मान्यता दें, क्योंकि 40 सालों में ऐसा पहली बार हो रहा है कि देश में शांतिपूर्वक सरकार का गठन होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...