1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Afghanistan : अफगान लड़कियों को माध्यमिक स्कूलों में पढ़ने की मिलेगी इजाजत, शिक्षा से वंचित नहीं रहेंगी

Afghanistan : अफगान लड़कियों को माध्यमिक स्कूलों में पढ़ने की मिलेगी इजाजत, शिक्षा से वंचित नहीं रहेंगी

अफगानिस्तान में सत्ता पर काबिज तालिबान ने संयुक्त राष्ट्र को भरोसा दिलाया है कि बेटिया शिक्षा से वंचित नहीं रहेंगी। लगातार बढ़ रहे वैश्विक दबाव के बाद तालिबान इस दिशा में काम कर रहा है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

काबुल: अफगानिस्तान (Afghanistan) में सत्ता पर काबिज तालिबान ने संयुक्त राष्ट्र (United Nation) को भरोसा दिलाया है कि बेटियां
शिक्षा से वंचित नहीं रहेंगी। लगातार बढ़ रहे वैश्विक दबाव के बाद तालिबान ((Taliban)) इस दिशा में काम कर रहा है। तालिबान लड़कियों (taliban girls)  की स्कूली शिक्षा जारी रखने की अनुमति देने के लिए ‘एक रूपरेखा’ (‘a framework’) पर काम रहा है। खबरों के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र (United Nation) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि तालिबान (Taliban) ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि वह जल्द ही सभी अफगान लड़कियों (Afghan Girls) को माध्यमिक स्कूलों में पढ़ने की इजाजत दे देंगे।

पढ़ें :- Afghanistan: तालिबान ने जेल से रिहा किए 210 से ज्यादा कैदी, सुरक्षा को लेकर अफगान नागरिकों में चिंता

खबरों के अनुसार, पिछले सप्ताह काबुल (Kabul) की यात्रा पर गए संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) के उप कार्यकारी निदेशक उमर अब्दी ने बताया कि अफगानिस्तान (Afghanistan) के 34 प्रांतों में से पांच प्रांतों – उत्तर पश्चिम में बाल्ख, जवज्जान और समांगन, उत्तर पूर्व में कुंदुज और दक्षिण पश्चिम में उरोज्गान में पहले ही माध्यमिक स्कूलों में लड़कियों को पढ़ने की इजाजत है।

उन्होंने कहा कि तालिबान के शिक्षा मंत्री ने उन्हें बताया कि वे सभी लड़कियों को छठी कक्षा से आगे अपनी स्कूली शिक्षा जारी रखने की अनुमति देने के लिए ‘एक रूपरेखा’ पर काम कर रहे हैं, जिसे ‘एक से दो महीने के बीच’ जारी किया जाएगा। अब्दी ने कहा, ‘माध्यमिक विद्यालय जाने की उम्र वाली लाखों लड़कियां लगातार 27वें दिन शिक्षा से वंचित हैं।

अफगानिस्तान में तालिबान के 1996-2001 के शासन के दौरान महिलाओं और लड़कियों पर कड़े नियम लागू कर दिए थे। उन्होंने लड़कियों और महिलाओं को शिक्षा के अधिकार से वंचित कर दिया था। उनके काम करने और सार्वजनिक जीवन पर रोक लगा दी थी। अब्दी ने कहा कि हर बैठक में उन्होंने तालिबान को ‘लड़कियों की शिक्षा बहाल करने’ पर जोर दिया। इसे खुद लड़कियों और देश के हित में महत्वपूर्ण बताया।’

पढ़ें :- Afghanistan: कभी भी ठप हो सकता है अफगानिस्तान का बैंकिंग सिस्टम, वित्तीय प्रणाली बचाने पर दिया जाना चाहिए जोर
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...