1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Afghanistan: तालिबान की क्रूरता, ऐसा क्या कर दिया युवती ने कि आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी

Afghanistan: तालिबान की क्रूरता, ऐसा क्या कर दिया युवती ने कि आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी

फगानिस्तान (Afghanistan) में जैसे- जैसे तालिबान (Taliban)आगे बढ़ रहा है वैसे- वैसे उसकी क्रूरता (brutality) बढ़ती जा रही है। हिंसा और मार -काट करते हुए तालिबान आतं​की अफगानिस्तान के शहरों पर कब्जा करते जा रहे है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Afghanistan: अफगानिस्तान (Afghanistan) में जैसे- जैसे तालिबान (Taliban)आगे बढ़ रहा है वैसे- वैसे उसकी क्रूरता (brutality) बढ़ती जा रही है। हिंसा और मार -काट करते हुए तालिबान आतं​की अफगानिस्तान के शहरों पर कब्जा (Taliban terrorists capture cities in Afghanistan)  करते जा रहे है। तालिबान (Taliban) ,अफगानिस्तान में लड़कियों और महिलाओं का अपहरण (Abduction of girls and women in Afghanistan) कर रहा है। बाद में अपने लड़ाकों से उनकी जबरन शादी कर रहा है। तहिलाओं पर अत्याचार करने में बेदर्द तालिबान बाल्ख प्रांत में तालिबान ने एक लड़की की सिर्फ इसलिए हत्या कर दी, क्योंकि उसने टाइट कपड़े पहने हुए थे और उसके साथ कोई पुरुष साथी नहीं था।

पढ़ें :- महाराष्ट्र में फिर दिखी भीड़ की बर्बरता, बच्चा चोरी के शक में 4 साधुओं को पीटा

मीड़िया रिपोर्ट्स के अनुसार, समर कांदियां गांव में तालिबानी चरमपंथियों ने युवती की गोली मारकर हत्या कर दी (Terrorists shot and killed the girl)। ये गांव तालिबान के कब्जे में है। बाल्ख में एक पुलिस प्रवक्ता आदिल शाह आदिल के हवाले से कहा गया कि पीड़िता का नाम नाजनीन था और वह 21 साल की थी।

तालिबानी लड़ाकों ने युवती के घर से निकलने के बाद ही उस पर हमला कर दिया। युवती बाल्ख की राजधानी मजार-ए-शरीफ (Mazar-e Sharif)  जाने के लिए वाहन में सवार हो रही थी, तभी उसकी हत्या कर दी गई। पुलिस ने बताया कि हमले के समय महिला ने बुर्का पहना हुआ था, जिससे चेहरा और शरीर दोनों ढके हुए थे। वहीं, तालिबान ने हमले से इनकार कर दिया है।

खबरों के अनुसार, जब भी कट्टरपंथी समूह अफगानिस्तान के किसी गांव, कस्बे या जिले पर कब्जा जमा रहा है तो वह स्थानीय मस्जिद के लाउडस्पीकरों से स्थानीय सरकार में काम करने वाले कर्मचारियों और पुलिसकर्मियों की पत्नियों और विधवाओं के नाम सौंपने का आदेश जारी कर रहा है।

तालिबानियो के आतंक से डरने वाले परिवार महिलाओं और लड़कियों को अफगानिस्तान की राजधानी काबुल सहित सुरक्षित क्षेत्रों में भेज रहे हैं, ताकि उन्हें तालिबान से बचाया जा सके।

पढ़ें :- Afghanistan: तालिबान की क्रूरता में नहीं हुआ रत्ती भर का सुधार, इस काम को करने पर 13 लोगों को गोलियों से भूना

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...