1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Afghanistan :काबुल इंटरनेशनल एयरपोर्ट से रवाना हुई पहली फ्लाइट, कतर पहुंचे विदेशी नागरिक

Afghanistan :काबुल इंटरनेशनल एयरपोर्ट से रवाना हुई पहली फ्लाइट, कतर पहुंचे विदेशी नागरिक

अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान के पूर्ण नियंत्रण के बाद काबुल इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ानों की आवाजा​ही बंद हो गई है।इस बीच काबुल से गुरुवार को पहली अंतरराष्‍ट्रीय फ्लाइट रवाना हुई।

By अनूप कुमार 
Updated Date

काबुल: अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान के पूर्ण नियंत्रण के बाद काबुल इंटरनेशनल एयरपोर्ट से उड़ानों की आवाजा​ही बंद हो गई है।इस बीच काबुल से गुरुवार को पहली अंतरराष्‍ट्रीय फ्लाइट रवाना हुई। 15 अगस्‍त के बाद यह पहला मौका है जब किसी इंटरनेशनल फ्लाइट ने उड़ान भरी है। यह कतर एयरवेज की चार्टर फ्लाइट थी जो गुरुवार को ही दोहा में लैंड हुई है। दूसरी फ्लाइट शुक्रवार को रवाना होगी।

पढ़ें :- चीनी फोन को फेंक दें और इस्तेमाल करने से बचें, जानें किस देश की सरकार ने अपने लोगो से की अपील
Jai Ho India App Panchang

अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकेन इससे पहले कतर के दौरे पर गए थे। यहां पर उन्‍होंने कतर से विदेशी नागरिकों को बाहर निकालने में मदद की मांग की है। खबरों के मुताबिक, पहली इंटरनेशनल फ्लाइट में करीब 113 लोग थे। यूनाइटेड किंगडम (UK) के विदेश मंत्री डॉमनिक रॉब ने बताया है कि फ्लाइट में 13 ब्रिटिश नागरिक भी थे जो दोहा पहुंच चुके हैं। उन्‍होंने कतर का शुक्रिया अदा किया है।

खबरों के अनुसार,व्‍हाइट हाउस की तरफ से भी एक बयान जारी किया गया है। इस बयान में इस बात की पुष्टि की गई है कि अमेरिकी नागर‍िक अफगानिस्‍तान से बाहर आ गए हैं। व्‍हाइट हाउस ने भी कतर को थैंक्‍यू कहा है। व्‍हाइट हाउस की मानें तो यह फ्लाइट बहुत ही सावधान और मुश्किल राजनयिक वार्ता की वजह से संभव हो सकी है। व्‍हाइट हाउस ने यह भी कहा है कि तालिबान ने भी एक बिजनेस और प्रोफेशनल की तरह बर्ताव किया और अमेरिकी नागरिकों को देश से बाहर आने में मदद की। कनाडा ने भी इस बात की पुष्टि की है कि उसके 43 नागरिक फ्लाइट में सवार थे। वहीं, नीदरलैंड्स के 13 नागरिक इसमें थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...